शशिकला को दोषी ठहराए जाने के बाद पन्‍नीरसेलवम खेमे और डीएमके में खुशी की लहर

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः सुप्रीम कोर्ट द्वारा एआईएडीएमके महासचिव शशिकला को आय से अधिक संपत्ति के मामले में दोषी ठहराए जाने और ट्रायल कोर्ट का फैसला बरकरार रखने के बाद पन्नीरसेलवम खेमे में खुशी का माहौल है। वहीं डीएमके भी इस फैसले पर अपनी खुशी जता रही है। डीएमके नेता तमिलनन प्रसन्ना ने इस फैसले पर खुशी जताते हुए कहा कि यह तमिलनाडु की जनता की बड़ी जीत है। साथ ही उन्होंने इसको भारतीय न्यायिक प्रक्रिया के लिए भी बड़ी जीत बताया है। इस बीच सूत्रों के हवाले से बताया जा रहा है कि गोल्डन बे रिसॉर्ट में विधायकों की एक बैठक चल रही है जिसमें शशिकला अपने बेहद करीबी को पार्टी की कमान सौंप रही है। पन्नीरसेलवम ने फैसले पर खुशी जताते हुए सभी विधायकों से अपने काम पर वापस आने और जयललिता के अधूरे कामों को पूरा करने की अपील की है। उन्होंने सभी विधायकों से एकजुट होकर काम करने की भी अपील की है। अपने समर्थकों को संबोधित करते हुए पन्नीरसेलवम ने कहा कि वह उन सभी लाखों लोगों का शुक्रिया अदा करते हैं जिन्होंने उनका हर वक्त साथ दिया है। उन्होंने कहा कि सरकार अम्मा के देखे सपनों को पूरा करने का काम करेगी। उनका कहना था कि सरकार को किसी बाहरी सपोर्ट की जरूरत नहीं है। एमके स्टालिन ने भी सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले पर खुशी जताते हुए कहा है कि इससे राजनीति को साफ-सुथरा करने में मदद मिलेगी। फैसले पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए उन्होंने कहा कि 21 वर्ष पुराने मामले में भले ही विलम्ब से फैसला आया हो लेकर दुरुस्त आया है। वहीं दूसरी ओर कानून के जानकारों का कहना है कि शशिकला के पास एक मौका रिव्यू पेटिशन फाइल करने का शेष है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद अब शशिकला को करीब साढ़े तीन वर्ष जेल में काटने होंगे। इस मामले में वह अब तक करीब छह माह तक जेल काट चुकी हैं। सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले के बाद से ही पन्नीरसेलवम के आवास के बाहर उनके समर्थकों का जमावड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। सभी को अब इस बात की उम्मीद दोबारा जगने लगी है कि सत्ता की कमान उनके ही हाथों में रहेगी। हालांकि इस मामले में गवर्नर उनसे सदन में फ्लोर टेस्ट करवाने के लिए कह सकते हैं। इसकी वजह यह है कि पन्नीरसेलवम न सिर्फ अपने पद से इस्तीफा दे चुके हैं बल्कि गवर्नर द्वारा उनका इस्तीफा मंजूर भी किया जा चुका है। इस बीच पुलिस महानिरीक्षक रैंक के दो अधिकारियों के नेतृत्वमें गोल्डन बे रिसॉर्ट में स्टेट ट्रांसपोर्ट की बस गई हैं। यहां पर शशिकला ने कई विधायकों को रखा हुआ था। खुद शशिकला भी सोमवार की रात यहीं पर थीं। शशिकला ने इनसे कहा था कि सब कुछ ठीक दिख रहा है। हम ही आगे सरकार चलाएंगे। गौरतलब है कि पन्नीरसेल्वम के बागी रुख अख्तियार करने के बाद शशिकला ने तमिलनाडु के गवर्नर सी विद्यासागर राव से निवेदन किया था कि वह जल्द से जल्द सीएम पद की कमान उनके हाथों में थमा दें। सोमवार को चेन्नई में समर्थकों की भीड़ को संबोधित करते हुए शशिकला ने कहा था, हमने पन्नीरसेल्वम जैसे हजारों देखे हैं. मैं डरती नहीं हूं।

Share This Post

Post Comment