बच्चा न होने पर पत्नी को पति ने जबरन पिला दिया फिनायल

भठिंडा, पंजाब/नगर संवाददाताः गांव नथाना में शादी के चार साल बाद भी बच्चा न होने व दहेज की मांग को लेकर पति ने 22 वर्षीय पत्नी को जबरन फिनायल पिलाकर मारने का प्रयास किया। इस अपराध में महिला के पति के साथ उसके ससुराल वाले भी शामिल रहे। किसी तरह इस बात की सूचना पीड़िता की बहन को लगी तो उसने अपने पिता को पूरी बात बताई। इसके बाद बेटी के ससुराल पहुंचे परिजनों ने गंभीर हालत में महिला को पहले नथाना सीएचसी फिर सिविल अस्पताल बठिंडा में भर्ती करवाया। यहां भी हालत गंभीर होने पर महिला को आदेश मेडिकल कॉलेज में रेफर कर दिया गया। वारदात के बाद थाना नथाना पुलिस ने पीड़िता के बयान लेकर उसके पति, ताया ससुर, तायी सास और इनकी बहू पर इरादतन हत्या के प्रयास का केस दर्ज कर लिया है। आदेश मेडिकल कॉलेज में भर्ती सुखप्रीत कौर ने बताया कि उसकी शादी चार साल पहले नथाना निवासी जसकरण सिंह के साथ हुई थी। शादी से लेकर अब तक उसको बच्चा पैदा नहीं हो सका। इस बात से पति जसकरण, ताया ससुर गुरजंट सिंह, तायी सास नसीब कौर, इनकी बहू खुशी अक्सर उसे बच्चा न होने व दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। इस प्रताड़ना से आहत होकर वह दो महीने पहले अपने मायके चली गई थी। बीते दिन उसके पति जसकरण सिंह ने उसकी मां को फोन कर उसे घर वापस बुला लिया। ससुराल पहुंचने पर उसका पति घर पर नहीं मिला। इस कारण वह पति से मिलने दूसरे घर चली गई। वहां पहुंचने पर पहले पति जसकरण ने उसे वापस मायके लौटने की बात कहीं। उसके विरोध करने पर वहां पहुंचे ताया गुरजंट सिंह ने उसके दोनों हाथ पकड़ लिए, जिसके बाद पति जसकरण, तायी सास नसीब कौर व बहू खुशी ने उसके मुंह में फिनायल उड़ेल दी। इसके बाद सभी लोग उस वहीं छोड़कर फरार हो गए। उसे कीटनाशक पिलाने की बात जैसे-तैसे बड़ी बहन लवप्रीत को पता चली इसके बाद उसने मायके सबको इस बात की सूचना दी। परिजनों के वहां पहुंचने के बाद उसे अस्पताल पहुंचाया गया। एएसआइ मग्घर सिंह ने बताया कि पुलिस ने पीड़िता के बयानों के आधार पर केस दर्ज कर लिया है। पुलिस आरोपियों की खोज में लगी है।

Share This Post

Post Comment