महाराष्ट्र में मराठा समाज का चक्का जाम आंदोलन

कोल्हापुर, महाराष्ट्र/संगप्पाः मराठा समाज की ओर से शिक्षा और सरकारी नौकरियों में आरक्षण के अलावा अन्य मांगों को लेकर आज राज्यभर में चक्का जाम आंदोलन किया गया। इस आंदोलन के चलते मुंबई, नासिक, कोल्हापुर, औरंगाबाद, पंढरपुर, सोलापुर में तनाव की स्थिति पैदा हुई है। नासिक में पुलिस ने कई आंदोलनकारियों को हिरासत में ले लिया है। शिक्षा और सरकारी नौकरियों में मराठा समाज को आरक्षण मिलने के लिए सकल मराठा समाज की ओर से पिछले चार महिनों से मूक मोर्चा का आयोजन कई शहरों में हुआ। 15 जनवरी को मराठा क्रांति मूक मोर्चा के सभी पदाधिकारियों की बैठक हुई इस बैठक में 31 जनवरी को अपनी मांगो को लेकर चक्का जाम आंदोलन का एेलान किया गया था। राज्यभर के प्रमुख शहरों के मुख्य चौराहे और सड़कों पर चक्का जाम आंदोलन किया। कोल्हापूर में पुणे-बंगळूर गोकूळ शिरगाव, उजळाईवाडी, पेठवडगाव यहाँ चक्का जाम आंदोलन किया। औरंगाबाद में यह आंदोलन हिंसक हुआ। आंदोलनकरियों ने पुलिस पर पथराव किया। कई कार्यकर्ताओं को हिरासत में ले लिया गया। नासिक के द्वारका इलाके में आंदोलन कर रहे कई कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। अहमदनगर में मराठा समाज के चक्काजाम आंदोलन से प्रमुख चौराहे पर वाहनों की लंबी कतारे लगी हुई है। कोल्हापुर – पुणे हाईवे पर चक्का जाम आंदोलन से तकरीबन पाँच  घंटे तक यातायात बाधित हुआ।

Share This Post

Post Comment