विधानसभा में अनुच्छेद 370 के मुद्दे पर भारी हंगामा

जम्मू, जम्मू कश्मीर/नगर संवाददाताः जम्मू कश्मीर विधानसभा में विपक्ष के शोर शराबे के बीच सदन ने ध्वनि मत से विनियोग बिलों को पारित कर दिया है। वित्त मंत्री हसीब द्राबू ने विनियोग के दो बिल एलए बिल नम्बर 3 ऑफ 2017 और 4 ऑफ 2017 को पेश किया। बिलों को पेश करने के दौरान सदन में अनुच्छेद 370 के मुद्दे को लेकर विपक्ष का भारी हंगामा जारी था। सदन में चल रहे हंगामें के बीच ध्वनि मत से दोनों बिलों को पारित कर दिया गया। इस बीच, वित्त मंत्री ने दो अन्य बिल भी सदन पेश किए। इनमें समाज कल्याण मंत्री सज्जाद गनी लोन की तरफ से वित्त मंत्री ने जम्मू और कश्मीर पर्सनस विद डिसेब्लिटी एक्ट 1998 में संशोधन का बिल एलए बिल नम्बर 1 ऑफ 2017, जम्मू-कश्मीर जनरल सेल्स टैक्स एक्ट 1962 में संशोधन का बिल एलए बिल नम्बर 2 ऑफ 2017 पेश किए। इसके अलावा वित्त मंत्री हसीब द्राबू ने राज्य विधानसभा में जम्मू-कश्मीर वैल्यू ऐडड टैक्स संशोधन अध्यादेश 2016 की कॉपी भी सदन में पेश की। गौरतलब है कि इससे पहले मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती के विधानसभा में बीते दिन अनुच्छेद 370 को तोड़ने की बात करने वालों को राष्ट्रद्रोही कहे जाने पर मंगलवार को विधान परिषद में सदन की कार्यवाही शुरू होते ही कांग्रेस सदस्यों ने शोर-शराबा करते हुए भाजपा सदस्यों से अपना पक्ष साफ करने को कहा। वहीं चेयरमैन हाजी अनायत अली के कांग्रेस सदस्यों को बैठने और प्रश्नकाल की कार्यवाही चलने देने की हिदायत के बावजूद जुगल किशोर शर्मा ने कहा कि अनुच्छेद 370 तोड़ने की बातें कर वोट हासिल करने वाली भाजपा को अब अपना पक्ष जनता के समक्ष साफ करना चाहिए। इतना ही नहीं इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री के बयान से एक बार फिर साफ हो गया कि इन दोनों पार्टियों में केवल कुर्सी के लिए गठबंधन है, जिससे राज्य को भारी नुकसान हो रहा है। इस दौरान भाजपा एमएलसी अशोक खजूरिया ने कांग्रेस के सदस्यों से दो टूक कहा कि भाजपा का स्पष्ट स्टैंड है कि जहां हुए शहीद मुखर्जी, वह कश्मीर हमारा है।

Share This Post

Post Comment