ग्रामीणों द्वारा जिला निर्वाचन अधिकारी को शिकायती पत्र भेजकर कार्यवाही की मांग

ग्रामीणों द्वारा जिला निर्वाचन अधिकारी को शिकायती पत्र भेजकर कार्यवाही की मांग

ललितपुर, उत्तर प्रदेश/लखन तिवारीः रसद एवं खाद्य विभाग के पूर्ति निरीक्षक तालबेहट द्वारा नेता विशेष के साथ जांच करने को ग्रामीणों ने आड़े हाथ लिया। मतदाताओं को प्रलोभन देकर पार्टी विशेष को लाभ पहुंचाने का आरोप लगाते हुए ग्रामीणों द्वारा जिला निर्वाचन अधिकारी को शिकायती पत्र भेजकर कार्यवाही की मांग की गई है। ग्राम वासी के मजरा खिरकन व गोविंदपुरा में आज रविवार की दोपहर पूर्ति निरीक्षक तालबेहट अशोक कुमार द्वारा जांच करते हुये दो घंटे गुजारे इस दौरान पूर्ति निरीक्षक के साथ गांव के नेता विशेष पूरे समय साथ रहे, जांच दौरान पूर्ति निरीक्षक द्वारा छह माह से जिस कोटेदार के पास कोटा नहीं है उस कोटेदार का नाम लेकर उससे सम्बन्धित जानकारी ली गई एवं नेता के साथ चल रहे ग्राम पंचायत के अस्थाई कर्मचारी के पास राशन कार्ड बनवाने हेतु नाम नोट कराये गये। ग्रामीणों द्वारा जिलाधिकारी, जिला निर्वाचन अधिकारी को शिकायती पत्र भेजकर अवगत कराया कि पूर्ति निरीक्षक रविवार के दिन निर्वाचन की अधिसूचना जारी होने के बावजूद जिला निर्वाचन अधिकारी की अनुमति के बगैर किसी प्रकार की पूर्व सूचना बिना गांव के नेता विशेष के साथ जांच के नाम पर आये और आम जन को आश्वासन दिया कि साथ चल रहे नेता जी के पास अपने नाम नोट करा दें इनके माध्यम से सभी सुवधायें मुहैया करा दी जायेगी। इस तरह जनता को प्रलोभन देकर मतदाताओं को नेता विशेष के कहे अनुसार मतदान करने हेतु प्ररित करने का आरोप लगाते हुये ग्रामीणों ने पूर्ति निरीक्षक के खिलाफ निर्वाचन आयोग के नियमों का उल्लंघन करने के खिलाफ सख्त कार्यवाही की मांग की गई है। ज्ञापन पर पूर्व ग्राम प्रधान रामदास शर्मा, दिनेश कुमार सोनी, क्षेत्र पंचायत सदस्य शशि प्रभा दुबे, सकी कुशवाहा, बद्री प्रसाद दुबे, शैलेन्द्र चौबे, निर्भान अहिरवार, अशोक यादव सहित दर्जनों हस्ताक्षर अंकित हैं।

Share This Post

Post Comment