अमुल्य पटनायक होंगे दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर

अमुल्य पटनायक होंगे दिल्ली के नए पुलिस कमिश्नर

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः दिल्ली पुलिस नए कमिश्नर अमूल्य पटनायक होंगे। 1985 बैच के पुलिस अधिकारी अमूल्य पटनायक का नाम कमिश्नर की रेस में सबसे आगे चल रहा है। सुत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक गृह मंत्रालय ने अमूल्य पटनायक के नाम पर हामी भर दी है। लेकिन इसकी अभी औपचारिक घोषणा होनी बाकी है। हालांकि 1984 बैच के पुलिस अधिकारी धर्मेंद्र कुमार और दीपक मिश्र का नाम भी इस दौड़ में शामिल हैं। दिल्ली की सुरक्षा की जिम्मेदारी को लेकर काफी समय से चर्चा चल रही है कि आखिर किसको यह अहम जिम्मेदारी दी जाएगी। अमूल्य पटनायक, दीपक मिश्रा और धर्मेंद्र कुमार में से किसी एक के कमिश्नर बनाए जाने पर कयास लगाये जाते रहे हैं। लेकिन दीपक मिश्रा और धर्मेंद्र कुमार तीसरे वरिष्ठ आईपीएस अमूल्य पटनायक से एक साल सीनियर हैं। दीपक मिश्रा को तेज तर्रार आईपीएस अधिकारी माना जाता है। स्पेशल सीपी(लॉ एंड ऑर्डर) रहते हुए उन्होंने पुलिस वालों को कानून की सुरक्षा करने के लिए खुला माहौल प्रदान किया। दीपक मिश्रा को एंकाउंटर मैन के रूप में भी जाना जाता है। इनके कार्यकाल में पुलिसवालों ने कई बदमाशों को मार गिराया था। इसके पहले जम्मू काश्मीर के एक बदमाश के एंकाउंटर को लेकर लोकसभा में हंगामा भी हुआ था और दीपक मिश्रा को विभागीय जांच से गुजरना पड़ा था। आईपीएस धर्मेंद्र कुमार भी निर्विवाद छवि के माने जाते हैं। दिल्ली में कॉमनवेल्थ गेम्स के दौरान उनके कार्य की काफी सराहना भी की गई थी। डीसीपी से लेकर कई महत्वपूर्ण पदों पर वे काम कर चुके हैं। इन दिनों धर्मेंद्र कुमार एडीजी सीआईएसएफ के पद पर कार्यरत हैं। 1985 बैच के आईपीएस अधिकारी अमूल्य पटनायक को भी सराहनीय कार्य के लिए 2002 में पुलिस पदक दिया जा चुका है। पांडिचेरी में एसएसपी (लॉ एंड ऑर्डर) रहते हुए अमूल्य पटनायक को ड्रग्स माफिया और अपराधियों पर शिकंजा कसने में काफी हद तक सफलता मिली थी। दिल्ली पुलिस में एडिशनल डीसीपी से लेकर संयुक्त पुलिस आयुक्त जैसे पदों पर रहने वाले अमूल्य को एरिया और अपराध के तरीकों की अच्छी समझ है। अमूल्य ने एसपीजी के डीआईजी रहते हुए सोनिया गांधी की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाली थी। यह चर्चा भी होती रही है कि दीपक मिश्रा और धर्मेंद्र कुमार से जूनियर अमूल्य पटनायक को कैसे कमिश्नर बनाया जा सकता है। यह बताना जरूरी है कि गृह मंत्रालय ने वाईएस डडवाल को कमिश्नर बनाने के लिए सीनियर आईपीएस किरन बेदी को भी नजरअंदाज कर दिया था। जिससे नाराज होकर किरन बेदी ने इस्तीफा दे दिया था। एक बार तो यूपी कैडर के अजयराज शर्मा को बाहर से लाकर दिल्ली का कमिश्नर बनाया गया था। गृह मंत्रालय अपने मुताबिक रिकॉर्ड की जांच कर नए कमिश्नर पर मुहर लगाता है। इस दौड़ में अमूल्य पटनायक का नाम लगभग तय माना जा रहा है।

Share This Post

Post Comment