सड़क हादसे में टीचर महिला की मौत

मोगा, पंजाब/अंशुल रावतः घटना पंजाब के मोगा की है। मृतक महिला सरकारी स्कूल में टीचर थी। उसे बस का हॉर्न सुनाई नहीं दिया और वह उसकी चपेट में आ गई। बस उसे करीब 100 मीटर तक घसीटती ले गई। लोगों ने युवती को गंभीर हालत में हॉस्पिटल पहुंचाया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर हादसे की जांच शुरू कर दी। पुलिस ने मृतका के पिता के बयान पर 174 की कार्रवाई की है। एएसआई कर्मजीत सिंह ने बताया कि मृतक लड़की 30 वर्षीय गुरप्रीत कौर रिटायर्ड टीचर दर्शन सिंह की बेटी थी। वह करीब डेढ़ साल से गांव रोडे में वोकेशनल टीचर के तौर से सरकारी कन्या स्कूल मे नौकरी करती थी। रोजाना वह निहाल सिंह वाला से बस पर बाघापुराना आती थी। वहां से वह एक्टिवा लेकर गांव में जाती थी। शनिवार सुबह भी रोजाना की तरह उसकी बेटी बस से बाघापुराना पहुंची थी। कर्मजीत सिंह ने बताया कि वह किसी के घर ए​क्टिवा खड़ी करती थी। बाघापुराना पहुंचने के बाद उसने एक्टिवा उठाया और गांव रोडे के लिए निकली। जैसे ही मोगा कोटकपूरा रोड पर बाघापुराना में ही एक पेट्रोल पंप पर स्कूटी में तेल डलवाने के लिए टर्न किया। इस बीच कोटकपूरा से मोगा की ओर आ रही तेज रफ्तार निजी कंपनी की सिंडीकेट बस ने स्कूटी को चपेट में ले लिया। टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि तेज रफ्तार बस गुरप्रीत को स्कूटी समेत सौ मीटर तक घसीटती ले गई। यह देखकर लोगों ने शोर मचाया, तब जाकर ड्राइवर ने बस रोकी। इसके बाद लोग घायल गुरप्रीत को उठाकर अस्पताल ले गए, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका।

Share This Post

Post Comment