साक्षी महाराज को चुनाव आयोग ने जारी किया नोटिस

उन्नाव, उत्तर प्रदेश/दिनेशः उन्नाव से भारतीय जनता पार्टी के सांसद साक्षी महाराज को उनके कथित तौर पर विवादित बयान पर चुनाव आयोग ने मंगलवाल को नोटिस जारी किया है। चुनाव आयोग ने उनके बयान को आचार संहिता का उल्लंघन मानते हुए 11 जनवरी तक उन्हें जवाब देने को कहा है। इससे पहले उत्तर प्रदेश मुख्य चुनाव अधिकारी ने साक्षी के बयान को लेकर रिपोर्ट तलब की थी। उत्तर प्रदेश में सात चरणों में होने वाले मतदान की तारीखों का ऐलान हो चुका है और वहां आदर्श आचार संहिता लागू है। उल्लेखनीय है कि मेरठ में एक मंदिर के उद्घाटन समारोह में लोगों को संबोधित करते हुए साक्षी महाराज ने कहा था कि ‘देश की आबादी हिंदू नहीं, बल्कि 4 पत्नियां और 40 बच्चों वाले लोगों की वजह से बढ़ रही है।’ साक्षी ने हालांकि अपने भाषण में किसी समुदाय का नाम नहीं लिया, लेकिन माना जा रहा है कि उनका इशारा मुसलमानों की ओर था। साक्षी महाराज के मुस्लिम आबादी पर दिए बयान को विवादित करार देते हुए विपक्षी दलों ने इसको लेकर भारतीय जनता पार्टी को निशाना बनाया था। विपक्षी दलों ने इसे उच्चतम न्यायालय के धर्म को चुनावी मुद्दा न बनाने के निर्देश की अवहेलना करार देते हुए चुनाव आयोग से कार्रवाई की मांग की थी। उधर, भाजपा ने साक्षी महाराज के बयान से किनारा कर लिया था। केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने इसे साक्षी महाराज का निजी बयान करार देते हुए कहा था कि इसे भाजपा का अधिकारिक नज़रिया नहीं समझा जाना चाहिए। हाल ही में उच्चतम न्यायालय ने स्पष्ट किया था कि जिला-ब्लॉक स्तर तक को कोई भी चुनाव जाति और धर्म के आधार पर नहीं लड़ा जा सकता।

Share This Post

Post Comment