इस्तांबुल में हुए आतंकी हमले में दो भारतीयों की मौत

अंतर्राष्ट्रिय, नगर संवाददाताः नए साल के जश्न के दौरान तुर्की के इस्तांबुल में एक नाइट क्लब में हुए आतंकवादी हमले में मारे गए 39 लोगों में दो भारतीय नागरिक भी शामिल हैं। इस हमले में कम से कम 70 लोग जख्मी हुए। हमले में जान गंवाने वाले भारतीय नागरिकों की पहचान अबीस हसन रिजवी और कुशी शाह के तौर पर हुई। अबीस पूर्व राज्यसभा सदस्य और मुंबई के बांद्रा के जाने-माने बिल्डर अख्तर हसन रिजवी के पुत्र हैं, जबकि कुशी गुजरात की रहने वाली हैं। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दो भारतीय नागरिकों की मौत की पुष्टि करते हए ट्वीट किया, ‘‘तुर्की से मेरे पास एक बुरी खबर है। इस्तांबुल हमले में हमने दो भारतीय नागरिकों को खो दिया. भारतीय राजदूत इस्तांबुल जा रहे हैं।’’  उन्होंने कहा, ‘‘पीड़ितों के नाम हैं श्री अबीस रिजवी, पूर्व राज्यसभा सदस्य के पुत्र और गुजरात की सुश्री कुशी शाह. अबीस रिजवी ‘रिजवी बिल्डर्स’ के सीईओ थे और वह 2014 में आई फिल्म ‘रोर: दि टाइगर्स ऑफ दि सुंदरबंस’ सहित कई फिल्मों के निर्माता थे।’’ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस्तांबुल हमले में हुई मौतों पर शोक व्यक्त किया। उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘इस्तांबुल में लोगों की जान के नुकसान पर तुर्की की सरकार और लोगों के प्रति शोक संवेदनाएं।’’ हमले में मारे गए विदेशियों में 18 साल की एक इस्राइली महिला और बेल्जियम का एक नागरिक भी शामिल है।

Share This Post

Post Comment