यूपी चुनाव से पहले मायावती को झटका, भाई के खाते में जमा हुए 1.50 करोड़

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः काले धन को सफेद करने वाले बैंक अधिकारियों, बिचौलियों और हवाला कारोबारियों के खिलाफ देशव्यापी अभियान के बीच राजनीतिक दलों की भी पोल खुलनी शुरू हो गई है। इस कड़ी में उत्तर प्रदेश विधानसभा के चुनावों से पहले बहुजन समाज पार्टी प्रमुख मायावती को झटका लगा है। प्रवर्तन निदेशालय ने मायावाती के भाई आनंद के खाते में 1.43 करोड़ रुपये की भारी-भरकम राशि जमा कराए जाने का पता लगाया है। वहीं, बहुजन समाज पार्टी के एक खाते में नोटबंदी के बाद 104.36 करोड़ रुपये नकद जमा करने की बात सामने आई है। प्रवर्तन निदेशालय के अधिकारियों ने बताया कि प्रवर्तन निदेशालय ने बैंकों में 1.43 करोड़ रुपये की संदिग्ध और भारी रकम राशि जमाए जाने की जांच और सर्वेक्षण अभियान के तहत सोमवार को एक बैंक की शाखा का दौरा किया और पाया कि नोटबंदी के बाद इन दो खातों में बड़े पैमाने पर रकम जमा कराई गई। इस पर बसपा का जवाब हासिल करने का प्रयास सफल नहीं हो पाया। प्रवर्तन निदेशालय ने इस खाते के बारे में पता लगाया जिसका ताल्लुक मायावाती के भाई आनंद से है। इस खाते में 1.43 करोड़ रुपये की राशि मिली है। बताया जा रहा है कि नोटबंदी के बाद 18.98 लाख रुपये पुराने नोटों में जमा कराए गए। अब इस बाबत एजेंसी ने बैंक से इन दोनों खातों के बारे में पूरा ब्योरा मांगा है। ऐसे में माना जा रहा है कि एजेंसी आयकर विभाग को इस बारे में लिखेगी जिसे राजनीतिक दलों को मिले चंदे और अनुदान की वैधानिकता की जांच का अधिकार हासिल है।

Share This Post

Post Comment