उम्मीदवारों को लेकर चाचा-भतीजे एक बार फिर आमने सामने

उम्मीदवारों को लेकर चाचा-भतीजे एक बार फिर आमने सामने

लखनऊ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः समाजवादी पार्टी में एक बार फिर कलह की स्थिति बनने जा रही है। विधानसभा चुनाव के उम्मीदवारों को लेकर चाचा शिवपाल और भतीजे अखिलेश एक बार फिर आमने सामने हैं। विधानसभा चुनाव के मद्देनजर सूबे के मुखिया अखिलेश यादव ने पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव को 403 उम्मीदवारों की लिस्ट दे दी है। वहीं शिवपाल 175 अपने करीबी उम्मीदवारों की लिस्ट पहले ही दे चुके हैं। अगामी चुनावों में दोनों के बीच कुछ नामों के लेकर मतभेद बना हुआ है। सूत्रों से पता चला है कि अखिलेश ने मुलायम को जो सूची सौंपी है, उसमें माफिया अंसारी बंधु, बाहुबली अतीक अहमद और पत्नी की हत्या के आरोपी अमनमणि का नाम नहीं है। साथ ही इसमें अखिलेश ने अपने कई करीबियों के नाम शामिल किए हैं और कई मंत्री विधायकों के टिकट काट दिए हैं। अखिलेश ने एक सर्वे की रिपोर्ट के आधार पर ये निर्णय लिया है जिसमें उन्होंने ऐसे लोगों को टिकट देने से मना कर दिया जिन्होंने पदों पर रहते हुए अपने कर्तव्यों का सही तरीके से निर्वाह नहीं किया। माना जा रहा है कि 28 दिसंबर तक चुनाव आयोग पांच राज्यों में चुनाव की घोषणा कर सकता है। पहले यह फरमान 22 दिसंबर को हबी आने वाला था लेकिन गोवा में क्रिसमस सेलिब्रेशन के चलते इसे टाल दिया गया। आगामी वर्ष में उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड पंजाब, मणिपुर और गोवा में चुनाव होना हैं।

Share This Post

Post Comment