छत्तीसगढ़ की सोनिका बनी गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड होल्डर

कोरिया, छत्तीसगढ़/मयूर जैनः कोरिया जिले के मनेन्द्रगढ़ निवासी सोनिका गुप्ता पिता स्व. मोहन लाल गुप्ता (27) को गोल्डन बुक ऑफ वर्ल्ड रिकार्ड से नवाजा गया है। पुराना रिकार्ड अमेरिका निवासी के नाम पर था जिसने विभिन्न देशों के 270 महापुरुषों की डाक टिकटों का संग्रहण किया था जबकि वर्तमान में सोनिका गुप्ता ने 39 देशों के 480 महापुरुषों के डाक टिकटों का संग्रहण कर रिकार्ड कायम किया है। गोल्डन बुक वर्ल्ड रिकार्ड के राष्ट्र प्रमुख मनीष विश्नोई ने पिछले दिनों राजधानी रायपुर में सोनिका को अवार्ड देकर सम्मानित किया है। मनेंद्रगढ़ निवासी सोनिका गुप्ता ने एक नया ही मुकाम हासिल कर लिया है। उनके महापुरुषों के नाम से जारी डाक टिकट कलेक्शन करने के शौक ने एक रिकॉर्ड कायम कर लिया है। सोनिका गुप्ता के 480 महापुरूषों के डाक टिकटों के संग्रहण में भारत के 152 अलग-अलग महापुरुषों के साथ ही 38 अन्य देशों के 328 महापुरुषों के डाक टिकट शामिल हैं। सोनिका को डाक टिकटों के संग्रहण की प्रेरणा अपने रिश्तेदार जस्टिस गुलाब गुप्ता से मिली, जबकि इस कार्य में उनके बड़े भाई गौरव गुप्ता व रायपुर से प्रदेश कांग्रेस की महासचिव नीना यूसुफ का सहयोग और मार्गदर्शन मिला। इन सभी के मार्गदर्शन में उन्होंने 39 देशों के महापुरुषों के डाक टिकटों का कलेक्शन कर रिकार्ड कायम किया है। सोनिका के गोल्डन बुक ऑफ वल्र्ड रिकार्ड होल्डर बनने पर गोल्डन बुक वल्र्ड रिकार्ड के राष्ट्र प्रमुख मनीष विश्नोई ने राजधानी रायपुर में उन्हें अवार्ड देकर समानित किया है। सोनिका का मानना है कि नई पीढ़ी ने महापुरूषों को नहीं देखा है, लेकिन वर्तमान पीढ़ी को डाक टिकटों के माध्यम से महापुरूषों को देखने और समझने का मौका मिलता है।

Share This Post

Post Comment