35 दिन बाद भी एटीएम एवं बैंकों के बाहर भारी भीड़: मायावती

35 दिन बाद भी एटीएम एवं बैंकों के बाहर भारी भीड़: मायावती

लखनऊ, उत्तर प्रदेश/नगर संवाददाताः बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कहा कि इसमें कोई संदेह नहीं है कि केन्द्र में भाजपा व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की सरकार द्वारा बिना पूरी तैयारी के बहुत जल्दबाजी में ही नोटों पर पाबंदी लगाने का फैसला लिया गया। यह फैसला देश की लगभग 90 प्रतिशत गरीब व मेहनतकश तथा मध्यम वर्गीय लोगों के लिए अभी तक भी पीड़ादायक बना हुआ है और इनमें से भी सबसे ज्यादा हमें देहातों के गरीब व किसान लोग ही दुखी व परेशान नजर आ रहे हैं। इस फैसले की वजह से देश में नोटबंदी के 35 दिन बाद भी एटीएम व बैंकों के बाहर लोगों की लगी भीड़ की लम्बी लाइन अभी तक भी छोटी नहीं हुई है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने कहा कि गरीबों, मजदूरों, किसानों की पीड़ा जाननी है तो प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं उनके मंत्री खुद जनता के बीच जाकर देखें कि किन परिस्थितियों में गरीब जनता अपना परिवार चला रही है और किसान अपना खेत में बुआई कर रहे हैं तथा मजदूर किस हालत में मजदूरी करने के लिए विवश हैं।

Share This Post

Post Comment