रालोसपा के पूर्व जिला प्रवक्ता व स्कूल संचालक नारायण की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

सिवान, बिहार/परवेज अख्तरः जीबी नगर थाना क्षेत्र के तरवारा बाजार के अपने निजी स्कूल में राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के पूर्व जिला प्रवक्ता नारायण कुमार की मौत संदिग्ध परिस्थितियों में हो गई।चर्चा है कि उसने आत्महत्या कर ली। घटना की सूचना मिलते ही क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई। वे सामाजिक कार्यों में बढ़-चढ़ कर भाग लेते थे। घटना की जानकारी मिलते ही लोग इसकी सत्यता जानने को ले उनके घर पहुंचने लगे। हालांकि इस मामले को ले पुलिस किसी तरह की जानकारी होने से इंकार कर रही है। घटना के बाबत मिली जानकारी के अनुसार जीबी नगर थानाक्षेत्र के कैथी गांव के अशेश्वर सिंह के मंझले बेटे नारायण कुमार फिलहाल तरवारा बाजार पर सीवान रोड में एक निजी स्कूल चलाते थे। मंगलवार की देर शाम जब उनसे मिलने उनके पहचान का कोई व्यक्ति पहुंचा तो उनका शव एक कमरे में पंखे की कड़ी से लटकता देखा। अपने साथी की मदद से बाइक से शव लेकर उसके पैतृक गांव कैथी लेकर गया। जहां आनन-फानन में शव का अंतिम संस्कार करा दिया गया। लोगों का कहना है कि मृतक ने कई लोगों से लाखों रुपए कर्ज भी लिए थे। इस काम में उसके कई दोस्त भी शामिल थे। पैसे के लिए हमेशा ही स्कूल परिसर में पंचायती होने की भी बात सामने आ रही है। लोगों के अनुसार कई बार पंचायती के दौरान नारायण कुमार से यह भी कहते सुना गया कि अगर लोग पैसों के लिए ज्यादा दबाव बनाएंगे तो वह आत्महत्या भी कर लेगा। स्थानीय लोगों का कहना है कि मृतक पैसों के लौटाने को ले हमेशा ही डिप्रेशन में रहता था। जीबी नगर इंस्पेक्टर ललन कुमार ने बताया कि इस संबंध में कोई जानकारी नहीं है। मामले की तहकीकात करा रहा हूं। मृतक नारायण कुमार ने आत्महत्या की या उसकी हत्या की गई यह तरवारा बाजार पर बुधवार को चर्चा के केन्द्र में रहा। लोग दिनभर कई तरह की चर्चा करते रहे। लोगों का कहना था कि पंखे की कड़ी से लटका देखने पर उसके दोस्त ने न ही शोर मचाया न ही पुलिस को ही इसकी सूचना दी। लोगों में यह भी चर्चा हो रही है कि रोजाना बकाया मांगने वालों के घर पहुंचने से परिवार के लोग भी आजिज थे। मृतक का बड़ा भाई भी स्कूल की ही गाड़ी चलाता है। वहीं छोटा भाई स्कूल की देखरेख करता है। फिलहाल परिजन भी कुछ कहने से कतरा रहे हैं।

Share This Post

Post Comment