तीन तलाक पर विवाद गलत : मायावती

लखनऊ, यूपी/नगर संवाददाताः बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री सुश्री मायावती ने कहा कि जबसे केन्द्र में प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भाजपा की पूर्ण बहुमत की सरकार बनी है, तबसे वह आरएसएस के संकीर्ण, साम्प्रदायिक व कट्टरवादी एजेण्डे को थोपने में लगी हुई है। यही नहीं अब तीन तलाक और मुस्लिम पर्सनल लॉ पर विवाद खड़ा किया जा रहा है, जो गलत है। बसपा प्रमुख ने कहा कि तीन तलाक के शरीयत से सम्बंधित अत्यन्त ही संवेदनशील कॉमन सिविल कोड के मसले को छोड़ दिया गया है। इससे पहले अलीगढ़ मुस्लिम विवि. व दिल्ली की जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के ‘‘अल्पसंख्यक शिक्षण संस्थान’ होने का दर्जा छीन कर एक सुलझे हुए मामले को दोबारा विवाद पैदा कर दिया है। सुश्री मायावती ने कहा कि वास्तव में उत्तर प्रदेश व देश के कुछ अन्य महत्वपूर्ण राज्यों में भी शीघ्र ही होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा व केन्द्र में प्रधानमंत्री मोदी की सरकार ने मुस्लिम पर्सनल ला, तीन तलाक व कॉमन सिविल कोड आदि के मुद्दों को लेकर नया विवाद खड़ा करके इसकी आड़ में भी घिनौनी राजनीति शुरू कर दी है।

Share This Post

Post Comment