रिटायर पुलिसकर्मी ने दलित के घर में घुसकर चेहरे पर डाला तेजाब

हिसार, हरियाणा/नगर संवाददाताः हरियाणा के हिसार जिला स्थित नारनोंद तहसील में एक दलित युवक पर तेजाब फेंकने का मामला सामने आया है। बताया जा रहा है कि गुरु रविदास मंदिर मोहल्ला में आपसी रंजिश के बाद आरोपियों ने दलित के घर में घुसकर मारपीट की और उसके चेहरे पर तेजाब डाल दिया। घायल व्यक्ति को सामान्य नागरिक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। आरोपी पुलिस विभाग से रिटायर है और उसके घर में तीन लोग और हरियाणा पुलिस में नौकरी कर रहे हैं। पीड़ित के रिश्तेदार सोहन लाल ने बताया कि आरोपी राजेंद्र व उसकी पत्नी एवं अन्य ने पुरान रंजिश है। इससे पहले भी आरोपियों ने कई बार पीड़ित रोहताश के साथ मारपीट की है। इससे पहले हुए हमले में तो उसका हाथ भी टूट गया था। शिकायत के बावजूद पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की थी। घटना की सूचना मिलते ही बसपा समर्थक एक्टीविस्ट बजरंग इन्दल टीम के साथ पीड़ित से मिलने शहर के नागरिक अस्पताल पहुंचे। बजरंग इन्दल ने बताया कि नॉरनोद स्थित गुरु रविदास मंदिर मोहल्ला में पीड़ित के घर के साथ आरोपियों का घर है। आरोपी व्यक्ति राजेंद्र पुलिस विभाग से रिटायर हुआ है और इसके दो अन्य परिजन भी पुलिस में हैं, जिस कारण यह परिवार काफी प्रभावशाली पहुंच वाला है। इस मामले में आरोपी पक्ष का कहना है कि वे बिल्कुल बेकसूर हैं। उन्हें जानबूझकर इस मामले में फंसाया जा रहा है। रोहताश व उनके छोटे भाई सोनू का कुछ समय पहले झगड़ा हुआ था लेकिन, उसे निबटा दिया गया था। इसके बाद शनिवार को पीड़ित रोहताश के परिवार में आपसी कलह हुई, जिसके बाद वह चोटिल हुआ। आरोपी के बड़े भाई का कहना है कि इस मुददे को जानबूझ कर जातीय रंग दिया जा रहा है। वे बिल्कुल निर्दोष हैं। इस मामले में पुलिस का कहना है कि पीड़ित रोहताश का बयान लेकर उसके पड़ोसी सोनू, सोनू की मां व सोनू के पिता पर एससी-एसटी एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर दिया है. बाकि अभी जांच चल रही है. जांच के बाद ही पता चल पाएगा कि किस बात को लेकर झगड़ा हुआ और तेजाब से हमला किया गया है या नहीं। साथ ही जांच अधिकारी ने बताया कि अभी कोई भी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है।

Share This Post

Post Comment