वायदा निभाया एसपी मुंगेर ने शहादत के लहू से जलाया शुजात का दीप

मुंगेर, बिहार/शिवशंकर लालः एक विचार एक पहल द्वारा एक शहीद को सम्मान देकर अक्षुण्ण बना देने खातिर मुंगेर एसपी आईपीएस शआशीष भारती ने अशिक्षा के अन्धकार रूपी रावण को जलाने की बेहद सराहनीय पहल की नींव रख दी है। शहीद दिवस के अवसर पर 9 किताब बैंक सह सामुदायिक पुस्तकालय उद्देश्य बहुत सार्थक और बेहद सदुपयोगी पहल को आज मूर्त रूप दे दिया है। मुंगेर के धरहरा थाना में भागलपुर जोन के आईजी सुशील खोपड़े द्वारा पुस्तक बैंक का किया उद्धघाटन किया गया है। इस मौके पर डीआईजी वरुण सिन्हा, एसपी आशीष भारती , एएसपी ललित शर्मा , एएसपी (ऑपेरशन) भिवास समेत कई पुलिस अधिकारी और धरहरा थाना क्षत्र के लोग उपस्थित रहे। नक्सल मुठभेड़ में शहीद हुए दारोगा भावेश ठाकुर को श्रद्धांजलि देने के लिए कार्यक्रम में शामिल हुए। साथ ही शहीद दारोगा भावेश ठाकुर की पत्नी अनुजा श्रीवास्तव ने आईजी से अपनी जरूरतों को पूरा करने का किया अनुरोध किया। इस बाबत आईजी सुशील खोपड़े ने जल्द अनुजा को बतौर क्लर्क में बहाली का आश्वासन दिया। मुंगेर पुलिस अधीक्षक आशीष भारती ने यह कदम उठाया है ताकि हालात के हाथो कोई मजबूर पढ़ने से वंचित न रह जाय। उद्देश्य स्पष्ट है तो प्रयास बहुउद्देशीय है। अक्सर देखा गया है कि लोगो के घरों में किताबे सेल्फ में रखी रह जाती है। बिना उपयोग किताबें रखी-रखी धूल फांकती हुए बर्बाद होते रहती हैं। इन्ही किताबो से शिक्षा की लौ जलाते हुए सामाजिक परिवर्तन की छोटी सी पर बेहद कारगर पहल की है।

Share This Post

Post Comment