दशहरे पर छुट्टी लेकर घर आए फौजी की गोली मारकर हत्या

ग्वालियर, मध्यप्रदेश/नगर संवाददाताः मध्य प्रदेश के ग्वालियर में एक ठेकेदार ने अपने साथियों के साथ घर में घुसकर फौजी और उसके भतीजे को गोली मार दी। घटना में घायल फौजी ने शनिवार सुबह इलाज के दौरान दम तोड़ दिया, वहीं भतीजे की हालत गंभीर बनी हुई है। महाराजपुरा पुलिस के अनुसार, फौजी श्याम प्रताप कुशवाह दिल्ली में पदस्थ थे। उनका परिवार ग्वालियर में पिंटो पार्क इलाके किराए से रहता है. श्याम प्रताप चार दिन पहले दशहरे पर की छुट्टियां लेकर घर आए थे। श्याम ने किराए के मकान के पास में ही एक प्लॉट खरीदा था। इस प्लॉट पर कथित तौर पर पड़ोस में रहने वाले ठेकेदाररुद्र भार्गव कब्जा करना चाहता है। इस प्लॉट को लेकर महीने भर पहले रुद्र और श्याम प्रताप के बीच विवाद हुआ था, जिसकी रिपोर्ट फौजी ने महाराजपुरा थाना में दर्ज कराई थी। इसी मामले में राजीनामा करने के लिए रुद्र भार्गव की तरफ से श्यामप्रताप पर दबाव बनाया जा रहा था। लेकिन फौजी परिवार इसके लिए राजी नहीं था। इसी विवाद को लेकर शुक्रवार देर रात को रुद्र भार्गव और उसका कर्मचारी नीलेश तोमर फौजी श्याम प्रताप के घर पहुंचे। रुद्र और नीलेश ने श्याम प्रताप के साथ गाली-गलौच की, फिर दोनों ने राइफल से फायरिंग कर दी। एक गोली फौजी श्याम प्रताप को लगी, वहीं दूसरी गोली श्याम के भतीजे पारुल को लगी. घटना के बाद आरोपी रुद्र और नीलेश फरार हो गए। घायल हालत में श्याम प्रताप और पारुल को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां श्याम प्रताप ने शनिवार तड़के दम तोड़ दिया, जबकि भतीजे पारुल की हालत गंभीर बनी हुई है। महाराजपुरा टीआई राघवेंद्र सिंह तोमर ने बताया कि, पोस्टमार्टम के बाद श्याम प्रताप के शव को परिजनों को सौंप दिया गया है. वहीं, दोनों आरोपियों के खिलाफ हत्या और हत्या के प्रयास का केस दर्ज कर उनकी तलाश की जा रही है।

Share This Post

Post Comment