जाट आरक्षण हिंसा: जांच के लिए रोहतक पहुंची सीबीआई टीम

रोहतक, हरियाणा/नगर संवाददाताः जाट आरक्षण के दौरान हुई हिंसा, आगजनी व लूट के मामले की जांच के लिए सीबीआई की टीम रोहतक पहुंची। सरकार की ओर से आरक्षण आन्दोलन के दौरान जिला रोहतक में दर्ज तीन अभियोगों की जांच सीबीआई को सौंपी गई है। सीबीआई के अधिकारी जिला अदालत में पहुंचे और केस को सीबीआई अदालत में स्थांतरित करने की अर्जी लगाई है। वहीं इस मामले में प्रदेश के वित मंत्री कैप्टन अभिमन्यू का कहना है कि अब इस पूरे मामले का सच जनता के सामने आ जाएगा। वित्त मंत्री कैप्टन अभिमन्यु के सैक्टर-14 स्थित आवास स्थान पर हुई तोडफोड़, आगजनी, लूट आदि के संदर्भ में थान अर्बन एस्टेट में दर्ज अभियोग व दिल्ली बाईपास स्थित सर्किट हॉउस पर हुई तोडफोड़, आगजनी, लूट आदि के मामले में थाना पीजीआईएमएस में दर्ज अभियोग की जांच का जीम्मा सीबीआई को सौंपा गया है। सीबीआई की टीम ने तीनों मामले की जांच करनी शुरु कर दी है। एएसपी, डीएसपी स्तर के अधिकारियों के नेतृत्व में सीबीआई की टीम रोहतक पहुंची। आज टीम रोहतक अदालत में पहुंची और केस को सीबीआई कोर्ट में स्थांतरित करने के लिए अर्जी लगाई। जिसकी सुनवाई रोहतक अदालत में कल होगी।

Share This Post

Post Comment