सास ने नौ माह की गर्भवती बहू को सोने के दौरान किया आग के हवाले

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः मंगोलपुरी थाना इलाके में सास ने नौ माह की गर्भवती बहू को सोने के दौरान आग के हवाले कर दिया। आग लगने के बाद महिला ने शोर मचाया और अपने कमरे से बाहर निकली। इसके बाद वहां मौजूद पीड़िता के मामा की बेटी ने आग को बुझाया। इसके बाद महिला को अस्पताल में भर्ती किया। रोहिणी कोर्ट के हस्तक्षेप के बाद पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर पुलिस ने सास के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।रीतू अपने परिवार के साथ मंगोलपुरी टी ब्लॉक इलाके में रहती थी। उसकी शादी मंगोलपुरी के रहने वाले आशोक पुत्र गोपीनाथ के साथ वर्ष 2015 में हुई थी।

Share This Post

Post Comment