गोपालगंज में मो शहाबुद्दीन मुक्ति आंदोलन फ्रंट का गठन, नहीं मनाएंगे मुहर्रम

गोपालगंज, बिहार/शिवशंकर लालः गोपालगंज में शहाबुद्दीन के सैकड़ो समर्थकों ने बनाया ” मो.शहाबुद्दीन मुक्ति आंदोलन” फ्रंट ताकि चरणबद्ध तरीके से आंदोलन कर सिवान के साहब की जेल से रिहाई सुनिश्चित की जा सके। साथ ही जिले में मुहर्रम नहीं मनाने की घोषणा। बैठक में उपस्थित समर्थको का मानना है साहेब की रिहाई नहीं होने की सियासी साज़िश के पीछे नीतीश कुमार और राजद सुप्रीमो लालू यादव का हाथ है। इसी कारण आगमी चुनाव में इन दोनों को बिना सत्ता से बेदखल किये शहाबुद्दीन साहब की रिहाई संभव नहीं है।इसी को ध्यान में रखते हुए सिलसिलेवार ढंग से इस बैनर के तले आंदोलन चलाया जाएगा। सनद रहे की पूर्व सांसद मो.शहाबुद्दीन की जमानत निरस्त कर उन्हें जेल भेजे जाने को उनपर ज्यादती बताते हुए सिवान से शुरू हुआ कैंडिल मार्च और 3 अक्टूबर को सिवान राजद ईकाई ने धरने का आयोजन कर अपनी ही सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। इस धरने में हज़ारो हज़ार की संख्या में शामिल हुए साहेब के समर्थक हाथों में बैनर लिए कार्यकर्ताओं ने नीतीश और लालू विरोधी नारे लगायें थे। राजद के कार्यकर्ता सुप्रीम कोर्ट में जमानत के विरोध के सरकार के फैसले का विरोध कर रहे थे। इसका मतलब साफ़ है सरकार के खिलाफ राजद भी लोगों को एकजुट कर रही हैं।

Share This Post

Post Comment