आतंकियों से मुठभेड़ में बीएसएफ का एक जवान शहीद, 2 आतंकी ढेर

बारामुला, जम्मू और कश्मीर/नगर संवाददाताः पीओके मे सर्जिकल स्ट्राइक के चार दिन बाद जम्मू और कश्मीर के बारामूला सेना कैंप हमला हुआ। इस हमले में दो आतंकी ढेर हो गए। आतंकियों से मुठभेड़ में बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया। जबकि बीएसएफ का एक जवान जख्मी है। वहीं जानकारी के अनुसार दो आतंकियों के एक कमरे में छिपे होने की खबर है, जिसे सेना ने घेर लिया है। सूत्रों के हवाले से खबर है कि मुठभेड़ में घायल एक आतंकी झेलम नदी में कूदकर भाग गया। आतंकियों ने रविवार रात साढ़े 10 बजे 46 राइफल्स के कैंप पर डबल अटैक किया। कुछ आतंकियों ने मेन गेट पर धावा बोला, जबकि दूसरे गुट के आतंकियों ने कैंप पर झेलम नदी की ओर हमला किया। लेकिन सुरक्षा बलों की मुस्तैदी से आतंकी कैंप में घुस नहीं पाए। करीब 3 घंटे की मुठभेड़ के बाद 2 आतंकी मारे गए और बाकी भाग गए। गृह मंत्री राजनाथ सिंह इस आतंकी हमले पर नजर बनाए हुए है। उन्होंने देर रात एनएसए और बीएसएफ के डीजी से भी बात की। गृह मंत्री ने एक जवान के शहीद होने पर दुख जताया है। वहीं सेना ने ट्वीट कर हालात काबू में होने की जानकारी दी है। बीएसएफ डीआईजी और सेना के कमांडिंग आॅफिसर देर रात से ही मौक पर पहुंच गए है। इसके साथ ही सेना का सर्च आॅपरेशन भी जारी है। बारामूला हमले के बाद राजधानी दिल्ली से लेकर तमाम बड़े शहरों में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। वहीं मुंबई में ड्रोन हमले के अंदेशे के बाद चप्पे-चप्पे पर चैकसी बरती जा रही है। पूजा-पांडालों पर सख्त पहरा दिया जा रहा है। रात करीब साढ़े दस बजे आतंकियों ने एके-47 और ग्रेनेड से हमला किया। अंधाधुंध फायरिंग करते हुए आतंकी सेना के कैंप के अंदर घुसने की फिराक मंे थे, लेकिन सतर्क सुरक्षाबलों ने फौरन जवाबी कार्यवाही की। इस दौरान दोनों तरफ से भारी गोलीबारी हुई। शुरूआती फायरिंग के बाद ही सुरक्षा बलों की जवाबी कार्यवाही में दो आतंकवादी ढेर हो गए थे।

Share This Post

Post Comment