उरी हमले में शहीद हुए राजकिशोर को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई

पटना, बिहार/नगर संवाददाताः जम्मू-कश्मीर के उरी में हुए हमले में शहीद बिहार के एक जवान को शनिवार को राजकीय सम्मान के साथ अंतिम विदाई दी गई. आरा के रहने वाले शहीद जवान राज किशोर सिंह का शव उनके पैतृक गांव बड़हरा प्रखंड के पीपरपाती गांव पहुंचा. शव पहुंचते ही गांव में लोग शहीद राजकिशोर अमर रहे के नारा लगाने लगे. पार्थिव शरीर को आठ साल के बेटे हेमंत ने मुखाग्नि दी. इस अवसर पर बिहार सरकार के दो मंत्री जय कुमार सिंह और विजय कुमार शहीद के गांव पहुंचे. राजकिशोर उरी हमले में घायल होने के बाद दिल्ली के अस्पताल में भर्ती थे जहां शुक्रवार को उनका निधन हो गया. शनिवार को दोपहर के बाद शहीद राजकिशोर का शव पटना पहुंचा था जहां एयरपोर्ट पर ही जवानों ने शव को सलामी दी. शव को पटना से दानापुर आर्मी कैंट भेजा गया. राजकिशोर बड़हरा के कृष्णगढ़ के पीपरपांती गांव के रहने वाले थे. राजकिशोर जुलाई में ही एक महीने की छुट्टी लेकर आए थे. गौरतलब है कि 18 सितंबर को उड़ी में आतंकवादियों के हमले में 18 जवान शहीद हुए थे इनमें तीन बिहार के थे. राजकिशोर को एक पुत्र हेमंत आठ साल और पुत्री सुहानी बारह वर्ष की है.

Share This Post

Post Comment