लोगों को अस्पताल पहुंचाने वाली 108 एम्बुलेंस के पहिए थमे

अनूपपुर, मध्यप्रदेश/नगर संवाददाताः आपातकालीन स्थिति में घायलों व बीमार लोगों को अस्पताल पहुंचाने वाली 108 एम्बुलेंस के पहिए शुक्रवार रात से पूरे मध्य प्रदेश में थम गए है. ऐसे हालात पुरानी कंपनी का ठेका खत्म होकर नयी कंपनी को जिम्मेदारी मिलने की वजह से बने है. दरअसल, मौजूदा कर्मचारियों को ये लगा कि 30 सितंबर को ठेका समाप्त होने के बाद उनकी नौकरी चली जाएगी. नयी कंपनी अपना नया स्टाफ भर्ती करेगी और पुराने कर्मचारियों को हटा दिया जाएगा. इसी वजह से रात 12 बजे से सभी कर्मचारियों ने काम करना बंद कर दिया. प्रदेश के सारे जिलों में अभी 108 एम्बुलेंस की सेवा उपलब्ध हैं. अभी 602 एम्बुलेंस वाहन काम कर रहे हैं, जिसमें से 2600 से ज्यादा कर्मचारी अपनी सेवाएं दे रहे हैं. नयी कंपनी को काम संभालने के लिए 20 अक्टूबर तक का समय दिया गया है. लेकिन, कुछ कर्मचारियों ने यह भ्रांति फैला दी कि पुरानी कंपनी का ठेका खत्म होते ही उनकी नौकरी पर संकट आ जाएगा, जिसके चलते सारी सेवाएं ठप हो गईंं. 108 एम्बुलेंस का संचालन कर रही जीवीके कंपनी का ठेका 30 सितंबर को खत्म हो गया. लेकिन सरकार की तरफ से इस कंपनी को 20 अक्टूबर तक का एक्सटेंशन दिया गया है. इस दौरान पुराने कर्मियों को नई कंपनी में शिफ्ट करना, वाहनों की फिटनेस की जांच, वाहनों के बीमा और अन्य दस्तावेजों की जांच शामिल हैं.

Share This Post

Post Comment