पंजाब समेत तीन राज्यों में हाई अलर्ट

चंडीगढ़/नगर संवाददाताः सीमा से सटे इलाकों में स्कूल अनिश्चितकाल के लिए हुए बंदछह जिलों के डाक्टरों, पुलिसकर्मियों, फायर ब्रिगेड कर्मियों व प्रशासनिक अधिकारियों की छुट्टियां रद्द बाघा बार्डर पर होने वाली रीट्रीट सेरेमनी स्थगित गुरदासपुर व पठानकोट के अस्पतालों को ब्लड ग्रुप स्टोर करने का आदेश भारत-पाक सीमा से सटे पंजाब के छह जिलों के 1000 गांवों को खाली करा लिया गया है। इन गांवों में करीब 2 लाख लोग रहते हैं। इन जिलों में तैनात डाक्टरों, पुलिस कर्मियों, फायर ब्रिगेड कर्मचारियों तथा अन्य प्रशासनिक अधिकारियों की छुट्टियां भी रद्द कर दी गई हैं। सीमा से सटे स्कूलों को बंद कर दिया गया है। पंजाब के साथ जम्मू कश्मीर और उत्तर प्रदेश को हाई अलर्ट पर रखा गया है। पठानकोट और गुरदासपुर जिलों के अस्पतालों को भी हाईअलर्ट रखा गया है। इन अस्पतालों के इमरजेंसी वाडरे में पहले से दाखिल मरीजों को दूसरे अस्पतालों में शिफ्ट कर दिया गया है। साथ ही सीमा से सटे अस्पतालों में विभिन्न ग्रुप के ब्लड स्टोर करने के निर्देश दिए गए हैं। इससे पहले पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल ने मंत्रीमंडल की आपात बैठक लेकर ताजा हालात पर र्चचा की। बैठक के बाद मुख्यमंत्री ने कहा, सभी छह जिलों में पुलिस तथा सिविल प्रशासन से संबंधित एक-एक अतिरिक्त अधिकारी की तैनाती कर दी गई है, जो वहां के जिला उपायुक्ततथा एसएसपी की मदद करेंगे। पंजाब के एडीजीपी लॉ एंड आर्डर तथा गृह सचिव कंट्रोल रूम पर तैनात रहेंगे। इसके अलावा पहले चरण में सभी छह जिलों के लिए हमने एक-एक करोड़ रपए की धनराशि जारी कर दी है, जिससे गांव छोड़कर आए लोगों के रहने-खाने की व्यवस्था की जाएगी।उधर, तनाव के चलते बीएसएफ ने बाघा बार्डर पर होने वाली रीट्रीट सेरेमनी भी स्थगित कर दी है।

Share This Post

Post Comment