भारत में वायु प्रदूषण से 75 प्रतिशत मौतें

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः दक्षिण पूर्वी एशियाई क्षेत्र में वायु प्रदूषण से प्रतिवर्ष करीब आठ लाख लोगों की मौत हो रही है जिसमें से 75 प्रतिशत से अधिक मौतें हृदय रोगों और फेफड़े के कैंसर के चलते अकेले भारत में होती हैं। डब्ल्यूएचओ की एक नई रिपोर्ट में कहा गया कि विश्व में 10 व्यक्तियों में से नौ खराब गुणवत्ता की हवा में सांस ले रहे हैं जबकि वायु प्रदूषण से होने वाली मौतों में से 90 प्रतिशत मौतें निम्न एवं मध्यम आय वाले देशों में होती हैं। वहीं तीन मौतों में से दो मौतें भारत एवं पश्चिमी प्रशांत क्षेत्रों सहित डब्ल्यूएचओ के दक्षिणपूर्वी एशिया में होती हैं।आवश्यक दवाओं के बारे में समाचार भ्रामक नई दिल्ली। सरकार ने मीडिया में आई उन रिपोटरे को भ्रामक बताया है, जिनमें कहा गया है कि 100 से अधिक दवाओं को आवश्यक दवा राष्ट्रीय सूची से बाहर कर दिया है, जिससे उनकी कीमतों में 10 प्रतिशत की वृद्धि हो सकती है। केन्द्रीय रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय ने मंगलवार को यहां जारी विज्ञप्ति में कहा कि यह समाचार पूरी तरह भ्रामक है और तयात्मक रूप से सही नहीं है। विज्ञप्ति के अनुसार, वैज्ञानिक मानदंडों के आधार पर संबंधित कोर कमेटी ने राष्ट्रीय आवश्यक दवा सूची 2011 में 106 दवाओं को शामिल करने और 70 दवाओं को इससे हटाने की अनुशंसा की थी। इस कमेटी ने सूची में शामिल किए जाने और हटाने के लिए निर्धारित मानदंडों पर दवाओं का मूल्यांकन किया। पीएलएफआई की फायरिंग में तीन की मौतखूंटी। जिले के नक्सल प्रभावित रेतोदंद में एक ग्रामसभा बैठक पर पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट आफ इंडिया के कार्यकर्ताओं द्वारा अंधाधुंध गोलियां चलाए जाने से तीन ग्रामीणों की मौत हो गई जबकि चार अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए। पुलिस ने मंगलवार को बताया कि रविवार दोपहर को ग्रामीण गांव से जुड़े मुद्दों पर विचार-विमर्श के लिए एकत्र हुए थे। इसी बीच करीब दो दर्जन पीएलएफआई कार्यकर्ता मौके पर पहुंच गए और उन्होंने अंधाधुंध गोलियां चलानी शुरू कर दीं।

Share This Post

Post Comment