फीस के लिए अध्यापक के फटकार लगाने पर बच्चे ने लगाई फांसी

पटना, बिहार/नगर संवाददाताः बिहार के दानापुर में एक बच्चे ने फांसी लगा ली क्योंकि उसके पिता स्कूल की फीस जमा नहीं कर पा रहे थे। स्कूल प्रबंधन बच्चे को फटकार लगाता था। आठवीं कक्षा का बच्चा इस जलालत को बर्दाश्त नहीं कर पाया। आखिरकार उसने फांसी लगाकर जान दे दी। रूपसपुर में किराए के मकान में रहनेवाले प्रमोद कुमार का 16 वर्षीय पुत्र विशाल कुमार वीर बसावन नगर स्थित एक निजी स्कूल की आठवीं कक्षा का छात्र था। प्रमोद और उनकी पत्नी इधर-उधर काम कर घर और बच्चों की पढ़ाई का खर्च उठाते थे। सोमवार की सुबह करीब सात बजे विशाल बिना किसी को बताए घर से निकल गया। देर शाम तक उसके नहीं लौटने पर परिजनों ने खोजबीन शुरू कर दी। बड़ा भाई सुमित उसे ढूंढता हुआ रुकुनपुरा में किराए के मकान में रहनेवाली अपनी मौसी रेखा के घर की तरफ गया। मौसी घर बंद कर चाबी अपनी बहन को देकर कुछ दिनों के लिए बाहर गई हुई थीं। उस घर का ताला खुला और दरवाजा अंदर से बंद देख शंका होने पर सुमित साथियों की मदद से दरवाजे को तोड़ अंदर घुसा, तो देखा कि छोटा भाई गले में लिपटे दुपट्टे के फंदे से छत में लगे पंखे के सहारे झूल रहा है। सूचना देने के बाद पहुंची रूपसपुर पुलिस ने उसे नीचे उतारा, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। घटनास्थल से किसी तरह का सुसाइड नोट नहीं बरामद हुआ। शव का मंगलवार को पोस्टमार्टम करा परिजनों को सौंप दिया गया। अपर थानाध्यक्ष राजेश सिंह ने बताया कि पिता के बयान पर अप्राकृतिक मौत का मामला दर्ज किया गया है। वहीं स्कूल प्रबंधन से बात करने की कोशिश की गई, पर बात नहीं हो सकी।

Share This Post

Post Comment