उरी हमले से आहत पीएम मोदी पाकिस्तान को देंगे एक और बड़ा झटका

नई दिल्ली/नगर संवाददाताः उरी आतंकी हमले के बाद भारत का तेवर पाकिस्तान को लेकर आक्रामक नजर आ रहा है। यही कारण है कि भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ सख्त रवैया अपनाते हुए पाक को सबक सिखाने का फैसला किया है। जिसके चलते भारत अब पाकिस्तान से मोस्ट फेवर्ड नेशन का दर्जा छीन सकता है। बता दे कि भारत पाकिस्तान पर डबल कूटनीतिक अटैक की तैयारी में है, इस नीति के तहत भारत पाकिस्तान से सिंधु जल संधि खत्म कर सकता है और दूसरा पाकिस्तान को मिलने वाले मोस्ट फेवर्ड नेशन MFN का दर्जा समाप्त कर सकता है। बताना चाहेंगे कि केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री अर्जुन मेघवाल ने इंडिया टुडे-आज तक से बातचीत में इस बात का इशारा किया है। उरी हमले के बाद भारत में लगातार पाकिस्तान के खिलाफ कार्रवाई की मांग हो रही है। ऐसे में भारत सरकार के ये फैसले पाकिस्तान की मुश्किल बढ़ा सकते हैं। दोनों ही फैसलों से पाकिस्तान की आर्थिक और सामाजिक स्थिति पर बुरा असर पड़ेगा. अर्जुन मेघवाल ने कहा कि सरकार के पास एमएफएन पर विचार करने का प्रस्ताव पहले से है। यदि भारत पाकिस्तान से मोस्ट फवर्ड नेशन का दर्जा वापस लेता है तो पाकिस्तान को कई मसलों पर भारत का समर्थन नहीं मिल सकेगा और पाकिस्तान को परेशानियां आने लगेंगी। इससे पहले भी सरकार पाकिस्तान को अलग-थलग करने का ऐलान कर चुकी है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, ये पहली बार है जब भारत पाक के एफएफएन स्टेट्स को रिव्यू कर रहा है। इससे पहले सुब्रमण्यम स्वामी सहित बीजेपी के कई नेता और रिटायर्ड सैनिक पाकिस्तान से एमएफएन का दर्जा वापस लेने के लिए सरकार से अपील कर चुके हैं। उरी हमले के बाद भारत लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) पर सुरक्षा बढ़ा रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, आर्मी युद्ध की तरह तैयारी कर रही है। 778 किलोमीटर लंबी एलओसी पर भारतीय फौज जवानों को नए तरीके से तैनात कर रही है। हथियार, तेल और खाने के सामान भी जमा किए जा रहे हैं।

Share This Post

Post Comment