जांजगीर में महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना में हुआ 45 लाख का घोटाला

जांजगीर-चंपा/छत्तीसगढ़/नगर संवाददाताः छत्तीसगढ़ के जांजगीर जिले में महात्मा गांधी रोजगार गारंटी योजना में 45 लाख रुपए का घोटाला हुआ है. इस संबंध में जांच रिपोर्ट आ गई है और रोजगार सहायक शशि कपूर सतरंज को टर्मिनेट कर दिया गया है. जांजगीर के मालखरौदा विकासखंड के ग्राम पंचायत बड़े रबेली में महात्मा गाँधी रोजगार गारंटी योजना अन्तर्गत वित्तीय वर्ष 2014 – 15 में 50 लाख से अधिक व्यय करने के मामले में जिला स्तर पर गठित जांच टीम की रिपोर्ट आ गई है. रिपोर्ट में पुष्टि हो गई है कि पंचायत द्वारा फर्जी मास्टर रोल के सहारे 45 लाख 49 हजार 165 रुपये की अनिमितता की गई. वित्तीय वर्ष 2014 – 15 में मालखरौदा विकाशखंड के कई पंचायतो में मनरेगा में भारी भ्रष्टाचार का मामला सामने आया था. मामले की गूंज राजधानी रायपुर तक हुई थी. कई मामलो की जांच रिपोर्ट आ गई थी और गुरुवार को एक और रिपोर्ट आई है. जांच रिपोर्ट में ग्राम पंचायत बड़े रबेली के तात्कालिक रोजगार सहायक शशि कपूर सतरंज को दोषी पाया गया है. रिपोर्ट आने के बाद रोजगार सहायक शशि कपूर सतरंज की सेवा समाप्त करने के आदेश कलेक्टर द्वारा जारी किए गए हैं.

Share This Post

Post Comment