बाबा रामदेव द्वारा भडकाऊ भाषण देने का मामला

बाबा रामदेव द्वारा भडकाऊ भाषण देने का मामला

रोहतक, हरियाणा/नगर संवाददाताः स्वामी रामदेव द्वारा भडकाऊ भाषण देने मामले में आज रोहतक कोर्ट में सुनवाई हुई. इस मामले में कोर्ट ने एसपी को भी जवाब देने के लिए नोटिस दिया. मामले की सुनवाई अगली तारीख 24 अक्टूबर को होगी. रोहतक में सदभावना सम्मेलन के दौरान बाबा रामदेव ने भडकाऊ भाषण दिया था कि अगर भारत का संविधान और कानून इजाजत देता तो वे उन लोगों की गर्दन काट देते, जो भारत माता की जय नहीं बोलते. इस बयान से पूरे देश में बवाल मच गया था. रोहतक में पूर्व मंत्री सुभाष बतरा ने बाबा रामदेव के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करने की शिकायत दी, लेकिन शिकायत दर्ज नहीं की गई. इसके बाद बत्तरा ने कोर्ट में इस्तगासा दाखिल किया, जिसके आधार पर कोर्ट ने 8 अप्रैल को रोहतक के एसपी को निर्देश दिए कि इस मामले की जांच कर 30 अप्रैल तक कोर्ट में रिपोर्ट जमा कराएं. आज इस मामले में 30 अप्रैल को पुलिस ने कोर्ट को बताया कि शिकायतकर्ता सुभाष बतरा और गवाहों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं, लेकिन बाबा रामदेव के बयान नहीं लिए गए हैं. बाबा रामदेव के बयान लेने के लिए उन्हें कुछ वक्त दिया जाए. इस पर कोर्ट ने पुलिस को 23 मई तक का समय दिया था.

Share This Post

Post Comment