मसूरी शहर में आवारा कुत्तों और पशुओं से हर कोई परेशान

देहरादून, उत्तराखंड/नगर संवाददाताः पहाड़ों की रानी मसूरी में आवारा कुत्तों के आतंक से स्थानीय लोगों के साथ शहर में घूमने आ रहे सैलानी भी परेशान हैं. लेकिन पालिका प्रशासन मौन है. आये दिन आवारा कुत्ते लोगों को अपना निशाना बना रहे हैं. पालिका को शिकायत करने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हो रही है, जिससे स्थानीय लोगों में भारी आक्रोश है. मसूरी के नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आरके सिंह के दफ्तर परिसर में भी आवारा कुत्ते देखे जा सकते हैं. स्थानीय निवासी शूरवीर भंडारी, सुनील पंवार का कहना है कि शहर की मालरोड पर बड़ी संख्या में झुंड़ में कुत्ते घूमते रहते हैं. जिससे पर्यटकों के साथ-साथ स्थानीय लोगों को खतरा बना हुआ है. स्कूली बच्चों को परेशानी उठानी पड़ रही है. पालिका प्रशासन कोई भी कार्रवाई करने को तैयार नहीं है. शहर के तीन किलोमीटर क्षेत्र में करीब चौदह सौ आवारा कुत्ते घुम रहे हैं. दो सालों में कईं लोगों को आवारा कुत्तों ने अपना शिकार बनाया. कई लोग अस्पताल में पहुंच रहे हैं. नगर स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आरके सिंह भी मानते है कि शहर में आवारा कुत्तों की संख्या बढी है, लेकिन समाधान क्या होगा, उनके पास इसका कोई जवाब नहीं है. शहर की मालरोड में आवारा कुत्तों के साथ गाय-बैल भी बड़ी संख्या में मसूरी में घूमते रहते हैं. सैलानी भी डर भय के माहौल में घूमने को मजबूर हैं, लेकिन पालिका प्रशासन को कुछ दिखाई नहीं दे रहा है.

Share This Post

Post Comment