दहेज के मामले में भी पुलिसवाले नहीं आए काम

नागौर, राजस्थान/भूरारामः यह घटना राजस्थान के नागौर जिले के मेड़ता रोड शहर की है जहां एक दहेज पीड़िता 1 महीने पुलिस स्टेशन के चक्कर लगाने पर भी उसकी एफआईआर दर्ज नहीं की गई। जिसके बाद कोर्ट द्वारा इस्तगासे के जरिए उसने रिपोर्ट की और उसके उपरांत भी उस पीड़िता की रिपोर्ट 25 दिन तक पुलिस वालों द्वारा दर्ज नहीं की गई। मजबूरन पीड़िता को नागौर जिले के एसपी साहब के समक्ष पेश होने पर उसकी रिपोर्ट दर्ज की गई। थाना अधिकारी का कहना है कि मैं छुट्टी पर था और पुलिस वालों का कहना है हम अभी व्यस्त हैं इस मामले में कोई कार्यवाही नहीं कर सकते कुछ दिन इंतजार करो। सिर्फ चंद राजनीतिक तत्वों के फोन आ जाने से पुलिस अपनी दबंगई दिखा रही है पीड़िता एवं उसके परिवार वालों को पुलिस वाले संतुष्ट जवाब तक नहीं दे रहे हैं। जबकि दहेज धारा 498 406 में नियम है कि 5 दिनों के अंदर अंदर मुलजिम पक्ष पर सख्त कार्यवाही की जाए।

Share This Post

Post Comment