भूख से बच्चों को बिलखता देख पिता ने पिया जहर

बैतूल, मध्यप्रदेश/नगर संवाददाताः मध्य प्रदेश के बैतूल जिले में एक युवक ने अपने बच्चों को भूख से बिलखते देखा तो उसने तनाव में आकर जहर पी लिया. युवक को नाजुक हालत में जिला अस्पताल में भर्ती किया गया, जहां उसे बचा लिया गया. जानकारी के मुताबिक, लखन पारधी मजदूरी और उसकी पत्नी भीख मांगकर अपने परिवार को पालते हैं. जब पत्नी भीख मांगने गई तो घर पर मौजूद बच्चे भूख के मारे रोने लगे, लेकिन लखन के यहां खाने को कुछ भी नहीं था और न ही उसके पास एक रोटी तक खरीदने के पैसे थे. लखन से अपने बच्चों को भूख से बिलखते हुए देखा नहीं गया और उसने जहर पी लिया. पत्नी वापस आई तो पति को अचेत देख वो घबरा गई. आसपास रहने वाले लोगों की मदद से लखन को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसकी जान बचा ली. लखन की मानें तो वो पिछले आठ साल से शरणार्थियों जैसा जीवन जीने को मजबूर हैं. उसने बताया कि प्रशासन से वो कई बार रोजगार और पुनर्वास की मांग कर चुका है लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ जिसके चलते उसके तीन मासूम बच्चे भूख से मरने की कगार पर हैं. इतना ही नहीं पुलिस भी बार बार उन्हें अपराधी बताकर उनके खिलाफ झूठे मुकदमे दर्ज करने की धमकी देती है. लखन ने कहा कि इन्हीं हालतों के चलते अब वो आत्महत्या तक करने को मजबूर होते जा रहे हैं.

Share This Post

Post Comment