उपचार में देरी से 24 घंटे में चार बच्चों की मौत

उज्जैन, मध्यप्रदेश/नगर संवाददाताः मध्य प्रदेश के उज्जैन जिले में एक अस्पताल में 24 घंटे के अंदर चार बच्चों की मौत के बाद परिजनों ने जमकर हंगामा किया. अस्पताल प्रशासन ने मामले में जांच कराए जाने का आश्वासन दिया है. जानकारी के मुताबिक, एक निजी अस्पताल में अलग-अलग मामलों में नलखेड़ा, लोहड़ी आगर, नागदा और मक्सी रोड अद्योगपुरी से चार बच्चे रेफर हो कर आए थे. इन सभी बच्चों की एक के बाद एक इलाज के दौरान मौत हो गई. बच्चों की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल प्रशासन पर लापरवाही का आरोप लगाया है. उन्होंने कहा कि कागजी कार्रवाई पूरी करने के पहले बच्चों को इलाज नहीं दिया गया. उपचार देरी से शुरू होने के कारण मासूमों को बचाया नहीं जा सका. हालांकि, डॉक्टरों ने इलाज में लापरवाही के आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया है. उनका कहना है कि इलाज में किसी तरह की कोई कोताही नहीं बरती गई. वहीं बच्चों के परिजनों ने अस्पताल में जमकर हंगामा किया. इसकी सूचना मिलने पर आला अधिकारी मौके पर पहुंचे और कई घंटों की समझाइश के बाद स्थिति को शांत करवाया गया. उन्होंने परिजनों को आश्वासन दिया कि मामलों में जांच होगी और दोषी पाए जाने पर संबंधित शख्स पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

Share This Post

Post Comment