मध्य प्रदेश के 500 स्कूलों में होगा जलवायु परिवर्तन पर चिंतन

अनूपपुर, मध्यप्रदेश/नगर संवाददाताः जलवायु परिवर्तन की चिंताओं से छात्र-छात्राओं और समाज को जागरूक करने के उद्देश्य से प्रदेश में 15 सितंबर से 6 अक्टूबर तक जलवायु परिवर्तन प्रशिक्षण कार्यक्रम चलाया जाएगा. क्लीन डेव्हलपमेंट एजेन्सी के सहयोग से प्रदेश के 500 स्कूलों में एक दिवसीय प्रशिक्षण होगा. वर्तमान में वायु मंडल में ग्रीनहाउस गैसों के उत्सर्जन से ग्लोबल वार्मिंग बढ़ रही है. ग्रीन हाउस गैसों का उत्सर्जन जीवाश्म ईंधन के जलने और भूमि उपयोग तरीकों से परिवर्तन के कारण बढ़ रहा है. जलवायु परिवर्तन चेतना कार्यक्रम में 15 सितंबर को सेंट थॉमस सीनियर सेकेंडरी स्कूल जबलपुर में 10 से 4 बजे तक एक दिवसीय प्रशिक्षण होगा, जिसमें जबलपुर, कटनी, उमरिया, मंडला और डिण्डोरी के बच्चे भाग लेंगे. इसी तरह 16 सितंबर को डेनियलसन महाविद्यालय छिन्दवाड़ा के प्रशिक्षण कार्यक्रम में छिन्दवाड़ा, सिवनी, बालाघाट, नरसिंहपुर, 21 सितम्बर को शासकीय कन्या एमएलबी कॉलेज ग्वालियर में ग्वालियर, भिण्ड, मुरैना, दतिया और शिवपुरी, 22 सितम्बर को वन्दना सीनियर सेकेण्डरी स्कूल गुना में गुना, अशोकनगर, राजगढ़ और श्योपुर, 27 सितम्बर को एप्को परिसर भोपाल में भोपाल, रायसेन, सीहोर, होशंगाबाद, बैतूल और विदिशा के छात्र-छात्राएं शामिल होंगे. चेतना कार्यक्रम में 29 सितम्बर को शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सागर में सागर, दमोह, पन्ना, छतरपुर और टीकमगढ़, 30 सितम्बर को सर्वोद्य विद्या विकास समिति रीवा में रीवा, सीधी, सिंगरोली, शहडोल, अनूपपुर और सतना, 4 अक्टूबर को शासकीय उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय उज्जैन में उज्जैन, रतलाम, नीमच, मंदसौर, शाजापुर और आगर, 5 अक्टूबर को बाल विनय मंदिर इंदौर में इंदौर, झाबुआ, अलीराजपुर, धार और बड़वानी और 6 अक्टूबर को शासकीय कन्या उच्चतर माध्यमिक विद्यालय देवास में देवास, खण्डवा, खरगोन, बुरहानपुर और हरदा के छात्र-छात्राएँ एक दिवसीय प्रशिक्षण में भाग लेंगे.

Share This Post

Post Comment