ब्रांडिंग को लेकर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कोई कसर नहीं छोड़ रहे

लखनऊ, युपी/नगर संवाददाताः उत्तर प्रदेश चुनाव से पहले राज्य की ब्रांडिंग को लेकर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव कोई कसर नहीं छोड़ रहे. अखिलेश इस बार ब्रांड मोदी का मुकाबला करने की तैयारी में हैं. अब अखिलेश लंदन में थेम्स नदी के रिवरफ्रंट की तरह गोमती रिवरफ्रंट बना रहे हैं. जिसके बाद लखनऊ की सूरत बदल जाएगी गंगा मां से प्रेम की बात कहने वाले नरेंद्र मोदी को यूपी का भरपुर प्यार मिला और दिल्ली में सरकार बन गई. लोकसभा चुनाव में हारे अखिलेश को ब्रैंडिंग का आइडिया यहीं से मिला और अब गोमती के बहाने अखिलेश वही दांव खेलना चाहते हैं. रिवरफ्रंट का आइडिया भी नरेंद्र मोदी के गुजरात के साबरमती रिवर फ्रंट से लिया और जनवरी 2015 से गोमती को संवारने का काम शुरू हो गया. यूपी चुनाव के लिए अभी तारीखों का एलान तो नहीं हुआ है. लेकिन काउंटडाउन शुरू हो चुका है. गोमती नदी पर लखनऊ में बन रहा रिवरफ्रण्ट अखिलेश के लिए किसी सपने से कम नहीं है. लखनऊ में कुड़िया घाट से लेकर लामार्टिनियर स्कूल तक 12.1 किलोमीटर का रिवरफ्रंट बन रहा है. इसपर तीन हज़ार करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं. लन्दन के थेम्स नदी की तर्ज पर इसे बनाया जा रहा है. मार्च 2017 तक इसे पूरा होना था. लेकिन अखिलेश यादव जल्द फीता काट लें, इसीलिए गोमती बैराज से लेकर लामार्टिनियर तक दो किलोमीटर तक का काम आख़िरी दौर में है

Share This Post

Post Comment