पौड़ी जिला अस्पताल में लोगों को नहीं मिल पा रही कोई सुविधा

पौड़ी गढ़वाल, उत्तराखंड/नगर संवाददाताः प्रदेश सरकार द्वारा स्वास्थ्य सेवाओं में करोड़ों रुपए तो खर्च किया जा रहा है लेकिन विभागीय अधिकारियों और कर्मचारियों की लापरवाही के चलते आज भी कई लोग सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं. जिला अस्पताल पौड़ी में भी प्रदेश सरकार द्वारा करोड़ो की मशीने तो लगा दी गई हैं लेकिन दो साल बीत जाने के बाद भी आज अस्पताल में कई मशीने शुरु ही नहीं की जा रही हैं. जिसके चलते करोड़ो की मशीनों में जंग लग गया है. यही नहीं अस्पताल में डॉक्टरों की कमी से भी लोगों का बुरा हाल हो रहा है. जिसके चलते लोगों को सही और समय पर ईलाज नहीं मिल पा रहा है. मौसम परिवर्तन के चलते इन दिनों जिला अस्पताल में पौड़ी में सुबह से ही लोगों की लाईन लग जा रही हैं लेकिन अस्पताल में स्टाफ की कमी और महंगी महंगी मशीनों के जंग लगने से लोगों को खासी दिक्कतें हो रही है. वैसे तो जिला अस्पताल में ईलाज के लिए सभी मशीने लगाई गई हैं लेकिन उसको चलाने वाला कोई नहीं जिसके चलते लोगों को या तो बाहर सरकारी अस्पतालों के चक्कर काटने पड़ते हैं या तो निजी अस्पतालों में जाकर मोटी रकम देनी पड़ती है. खुद अस्पताल के बीमार पड़ जाने से अब लोगों में भी काफी आक्रोश है. लोगों का कहना हैं कि अस्पताल लोगों का ईलाज करता है लेकिन यहां पर खुद अस्पताल को ईलाज की जरुरत है उन्होंने कहा कि अस्पताल में ना तो पूरा स्टाफ है और ना ही सही से देखने वाला डॉक्टर, जन प्रतिनिधियों की माने तो उन्होंने डॉक्टरों की कमी के चलते कई बार इसकों लेकर आन्दोलन भी कर दिया है लेकिन जिला स्वास्थ्य विभाग है कि उसके कानों में जू तक नही रेंगती है. बदहाल अस्पताल के कारण आज पूरा शहर यहा वहा भटक रहा है.  कहने को तो ये पौड़ी जिले का सबसे बड़ा अस्पताल हैं लेकिन अस्पताल में सही से लोगों को ईलाज नहीं मिल पाना ये बात खुद जिला स्वास्थ्य विभाग पर प्रश्नवाचक चिन्ह लगा रहा है. पौड़ी जिला अस्पताल में लोग एक उमीद के साथ दूर दराज गांव से पहुंचे हैं पर यहा पर कोई भी सुविधा नहीं होने से उन्हे मायूस होकर अपने घर वापस लौटना पड़ता है. वही सीएमओ मनीष अग्रवाल की माने तो अस्पताल में डाक्टों की कमी नहीं है पर डाक्टरों के छुटी पर जाने से लोगों की दिक्कतें होती हैं जिसकी वैकल्पिक व्यवस्था भी कराई जाती है. साथ ही उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा अस्पताल को सीटी स्कैन मशीन भी दी गई हैं लेकिन टेकनिशियन नहीं होने के कारण उसे अभी तक शुरु नहीं किया गया है. उन्होंने कहा कि जल्द ही मशीन को शुरु कर दिया जाएगा.

Share This Post

Post Comment