पिता ने किया पुत्री की हत्या, डोली उठाने की बजाय दिया अर्थी को कंधा

सारन, बिहार/शिवशंकर लालः सदियों से लोग अपनी लाडली बेटी के लिए सुंदर घर-वर खोजकर साजो सामान के साथ विदा करने का सपना दिखाते और देखते जी रहे हैं, इस स्वप्न को हकीकत मे पूरा करने के लिए लोग अपने जीवन की हर संचित पूंजी लगाने से भी परहेज नहीं करते,मगर जिंदगी का अहम फैसला बेटी द्वारा खुद ले लेने के बीच घरवाले उसके जान के प्यासे बन जाते हैं ,बचपन से बेटी को दुलारने खिलानेवाला हाथ उसकी कत्ल करने मे तनिक भी वक्त नहीं लगाता है।इसे हीं हम ऑनरकिलिंग कहते हैं । ऐसा हीं मामला रसूलपुर थाना क्षेत्र के जमनपुरा गाँव में प्रकाश में आया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार जमनपुरा गाँव निवासी मड़ई महतो के पुत्र रामबाबू महतो ने अपनी 18 बर्षीय पुत्री बबीता कुमारी की हत्या कर साक्ष्य छुपाने के उद्देश्य से शव को गायब कर दिया ।मामला शुक्रवार की देर रात्रि की है। सुत्रों की माने तो रामबाबू महतो अपनी पुत्री की हत्या कर पहले सर्प डंस का अफवाह उड़ाया फिर ईलाज के बहाने ले जाकर शव का कहीं अंतिम संस्कार कर दिया ।ईलाज के लिए उसने गाँव के किसी भी व्यक्ति का सहारा लिए बिना अकेले हीं शव को कंधे पर लेकर चल पड़ा।सुबह होते हीं मामला जंगल मे फैले आग की लपटों की तरह पसर गया।तबतक पिता पुत्री का क्रिया क्रम कर घर लौट चुका था।लोग उसकी हिम्मत की दाद दे रहे थे।तभी मामले की जानकारी रसूलपुर थानाध्यक्ष संजय कुमार को हुई ।सूचना मिलते ही स्थानीय थाना पूलिस जमनपुरा गाँव पहूँची पूलिस के आने की भनक पाते हीं मृतका के पिता व परिवार वाले घर छोड़ फरार हो गए। सुत्रों की माने तो चार साल पहले भी अपनी एक पुत्री की हत्या कर चुका है।तब कुछेक ग्रामीणों की सक्रियता व पूलिस की निष्क्रियता के कारण मामला उजागर नहीं हो पाया था।इस संबंध में थानाध्यक्ष संजय कुमार ने बताया कि मामले की तहकीकात की जा रही है।

Share This Post

Post Comment