पॉच लाख की ठगी कर फसांया अपहरण मामले मे

जयपुर, राजस्थान/विकास कुमार शर्माः उपखण्ड के ग्राम पंचायत गोविन्दगढ के निवासी गौरक्षक दल के अध्यक्ष शेरसिंह कुमावत पर अपहरण का झूठा मामला दर्ज हुआ। वही दुसरी और अपहरणकर्ता व अन्य पर कुमावत ने जरिये इस्गासे से ठगी का मामला दर्ज करवाया। गुरूवार शाम हुई प्रेसवार्ता के दौरान शेरसिंह कुमावत ने बताया कि तकरीबन छ माह पहले गोकुल कुमार सोनी व शिम्भू कुमार सोनी मेरे शोरूम पर आये और कहा कि अभी चॉदी के भाव सस्ते है और जल्द ही सर्राफा बाजार मे चॉदी के भाव बढने वाले है।यदि आप इस समय चॉदी खरीद लेते हो तो आपको अच्छा मुनाफा हो जायेगा। जिसकी मे गारटी देता हुॅ। और यह कह कर गौकुल सोनी व शिम्भू सोनी ने पॉच सौ रूपये के स्टाम्प पर इकरानामा कर 5 लाख रूपये ले गये। लगभग चार माह बित जाने पर जब सर्राफा बजार मे चॉदी के भाव 10000 रूपये प्रतिकिलो के हिसाब से बढ गये तो मैने गोकुल सोनी से कहा की चॉदी या पैसे लोटा दो तो वह टरकाता रहे। और एक दिन शिम्भू कुमार सोनी ने साजिश कर मुझे धौबलाई मे स्थित खुद की दुकान ममता ज्वैलर्स पर बुलवाया। जहॉ पर शिम्भू सोनी व पत्नि बेबी, गोकुल की पत्नि अर्चना व शिम्भू का साला पिन्टू मौजूद था। जो कि मेरे जाते ही मुझ पर हावी हो गये और गाली गलोच करने लगे। जब मैने उनसे मेरे पैसो के बारे मे र्जिक किया तो उन्होने मुझे धमकाया कि दुबारा पैसे के लिए इधर आ गया तो तेरे को छेडछाड, अपहरण , मारपीट,लुटपाट जैसे मामले मे फंसा कर जिन्दगी खराब कर देगे। ऐसी स्थिति मे मै वहॉ से गोविन्दगढ थाने पहुॅच कर शिकायत दी ,जिसको पुलिस ने जॉच मे डाल दी ।वही दुसरी उक्त लोगो को इस बात का पता चला तो पुरे परिवार ने मेरे खिलाफ साजिश रच कर शिम्भू को रात को ही कही पर भगा कर सुबह गौविन्दगढ थाने मे जाकर मेरे खिलाफ शिम्भु सोनी के अपहरण करने का मामला दर्ज करवाया दिया। जब थानाधिकारी ने मामले मे खोजबीन चालु की तो दुसरे दिन ही शिम्भू सोनी अपने आप ही घर आ गया। सोची समझी साजिश के तहत मेरे द्वारा दिये गये पॉच लाख रूपये हडप करने की नियत से मुझे अपहरण जैसे झूठे मामले मे फंसा कर हमारे बिच किये लेन देन के इकरानामे को निरस्त करने की शर्त एवंम रूपये हडप करने की नियत से  दबाव बना रहे है।

Share This Post

Post Comment