बेटे के हत्यारों को सजा दिलाने के लिए माँ ने डाली जान जोखिम में

झुनझुनू, राजस्थान/नरेश शर्माः बेटे की हत्या के आरोपित को गिरफ्तार करवाने की मांग को लेकर एक महिला शुक्रवार को पेयजल टंकी पर चढ़ गई। पांच घंटे की समझाइश के बाद वह नीचे उतरी। इस दौरान उसके परिजनों ने सड़क पर जाम लगा दिया। मामला झुंझुनूं जिले के बगड़ थाना इलाके के गांव खुडाना का है। जानकारी के अनुसार अशोक नगर निवासी सुरेन्द्र सिंह की पिछले दिनों हत्या कर दी गई। सुरेन्द्र की मां बिदामी देवी उसकी हत्या के मुख्य आरोपित की गिरफ्ताारी नहीं होने से खफा थी। सुबह उसने गांव खुडाना में पेयजल टंकी चेन तोड़कर उसके ऊपर जा बैठी। लोगों को उसके टंकी पर चढऩे का पता चला तो मौके पर भीड़ जमा हो गई। सूचना पाकर पुलिस भी वहां पहुंच गई। सभी ने उससे नीचे उतरने के लिए समझाइश की, मगर वह अपने बेटे की हत्या के आरोपित की गिरफ्तारी की मांग करती रही। चिड़ावा एसडीएम राजीव आचार्य, तहसीलदार बृजेश कुमार, सीओ चिड़ावा वीरेंद्र जाखड़, सीओ (सिटी) गोपाल लाल शर्मा, सदर थाना प्रभारी बृजेंद्र सिंह समेत अन्य अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। उल्लेखनीय है कि गांव अशोक नगर निवासी सुरेंद्र सैनी गुमशुदगी दर्ज हुई थी। पिछले दिनों मलसीसर क्षेत्र के गांव पांडासी के एक कुएं में सुरेंद्र सैनी का शव पड़ा मिला। परिजनों ने हत्या का मामला दर्ज करवाया था, जिस पर पुलिस ने तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भी भिजवाया, मगर सुरेन्द्र की मां का आरोप है कि मुख्य आरोपी अभी भी गिरफ्त से दूर है। आक्रोशित लोगों ने प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। महिलाओं ने सड़क पर पत्थर डालकर रास्ता जाम कर दिया। इसके बाद महिलाएं वहां पर बैठकर प्रदर्शन करने लगी और पुलिस प्रशासन पर मिलीभगत का आरोप लगाया। करीब पौने एक घंटे तक जाम लगा रहा। इसके बाद कार्रवाई का आश्वासन देने के बाद महिलाएं वहां से हटीं। इस दौरान सड़क के दोनो और वाहनों की लंबी कतार लग गई। प्रशासन ने कार्रवाई का आश्वासन दिया। इस दौरान परिजनों की ओर से मांगों को लेकर पुलिस प्रशासन को ज्ञापन दिया गया। आश्वासन के बाद महिला टंकी से नीचे उतरी। आश्वासन के बाद महिला के परिजन कपिल, राकेश, पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष बबली सैनी, अनिता आदि टंकी पर चढ़े और महिला को नीचे उतार का लाए। परिजनों व ग्रामीणों ने पुलिस पर मिलीभगत का आरोप लगाया। परिजनों का आरोप है कि चंदगीराम गांजे की तस्करी करता है। जिसकी शिकायत सुरेंद्र सैनी ने बगड़ पुलिस थाने में की थी। पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। चंदगीराम ने करीब तीन माह पूर्व सुरेंद्र सैनी को जान से मारने की धमकी दी थी। परिजनों का आरोप है कि हत्या होने के बाद पुलिस ने चंदगीराम को पूछताछ के लिए थाने में भी बुलाया था, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं की।

Share This Post

Post Comment