पुलिस वाहन को टक्कर मारकर कर दिया क्षतिग्रस्त

जालोर, राजस्थान/घेरवपुरीः डोडा पोस्त तस्करों का पीछा कर रही सायला पुलिस पर बदमाशों ने ना केवल फायर किया, बल्कि पुलिस वाहन को भी टक्कर मारकर क्षतिग्रस्त कर दिया। हालांकि पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से बदमाशों को घेरने की काफी कोशिश की, लेकिन वे हथियारों के दम पर फरार हो गए। जानकारी के अनुसार मंगलवार रात मेंगलवा गांव में चौदह दुकानों के ताले टूटने की सूचना पर बुधवार सुबह सायला थानाधिकारी राजेंद्रसिंह राजपुरोहित मय जाप्ता मौके पर पहुंचे। तफ्तीश के दौरान उन्हें सूचना मिली की तिलोड़ा गांव में भी एक दुकान में चोरी हुई है। इस पर एएसआई देवाराम को कुछ पुलिसकर्मियों के साथ तिलोड़ा में मौका मुआयना करने भेजा। उनके रवाना होने के बाद मुखबिर से इत्तला मिली की तिलोड़ा की ओर से डोडा पोस्त से भरी बोलेरो आ रही है। इस पर पुलिस सतर्क हो गई। रास्ते में पुलिस को दो वाहन आते दिखाई दिए। जिसमें आ चल रही स्कॉर्पियों में तीन जने सवार थे। वहीं पीछे तेज गति से बोलेरो आ रही थी। पुलिस ने उन्हें रुकवाने की कोशिश की, लेकिन दोनों वाहन दोनों वाहन रुकने के बजाय वहां से जीवाना की तरफ भाग गए। इधर, सूचना मिलने पर सायला थानाधिकारी ने कुछ ग्रामीणों को फोन करके जीवाणा की तरफ जा रहे तस्करों की गाडिय़ों को रुकवाने के लिए कहा। ग्रामीणों ने बीच रास्ते पर कैम्पर वाहन रखा, लेकिन तस्कर उसे टक्कर मार कर जीवाणा की तरफ भाग गए। इधर, तस्करों ने जीवाणा रोड पर एक बाइक सवार को टक्कर मार दी। जिससे वह गंभीर घायल हो गया। गंभीरावस्था के चलते उसे गुजरात रैफर करना पड़ा। इस दौरान उन्होंने एक बैल को भी टक्कर मार कर बुरी तरह घायल कर दिया। इस बीच, सायला से थानाधिकारी राजेंद्रसिंह व एएसआई देवाराम मय जाप्ता बदमाशों का पीछा करते रहे। मेंगलवा के यहां रास्ता नहीं मिलने पर बदमाशों ने गाड़ी मोड़कर पुलिस जीप को ही टक्कर मार दी। जिससे पुलिस वाहन बुरी तरफ क्षतिग्रस्त हो गया। वहीं थानाधिकारी राजेंद्रसिंह, एएसआई देवाराम सहित कुछ पुलिसकर्मी घायल हो गए। इस दौरान पुलिस वाहन भी क्षतिग्रस्त होने से बंद हो गया। मौके देखते ही बदमाश मौके से भाग छूटे। उन्होंने दोनों वाहन मेंगलवा से पूनावा की ओर से भगाने शुरू कर दिए। इस बीच, पुलिस ने ग्रामीणों के सहयोग से बाइक पर बदमाशों का पीछा करना शुरू किया। साथ ही आगे रास्ता बंद करवाने के लिए ग्रामीणों से सम्पर्क में रहे। आगे रास्ते बंद देखकर बदमाशों ने बोलेरो रोक दी। लेकिन जैसे पुलिस जाप्त उनके समीप पहुंचा उन्होंने पिस्तौल तान दी। इस दौरान बदमाशों ने हवाई फायर भी किए। पांचों बदमाश डोडा पोस्त से भरी बोलेरो वहीं छोड़कर स्कॉर्पियों में सवार होकर भाग छूटे। पुलिस ने डोडा पोस्त से भरी बोलेरो जब्त कर ली। इधर, बदमाश फिर से मेंगलवा होते हुए जीवाणा की तरफ मुड़ गए। पुलिस ने भी हार नहीं मानी और उनका पीछा करते रहे। इधर, स्कॉर्पियों में डीजल खत्म होने पर वे गाड़ी को दूदवा के पास लावारिस छोड़कर भाग गए। पुलिस ने दोनों वाहन जब्त कर थाने ले आए। एक तरफ जिलेभर में चोरी व तस्करी के बढ़ते मामलों में पुलिस की सुस्ती कार्य प्रणाली को लेकर सवालिया निशान उठ रहे हैं। वहीं बुधवार को सायला पुलिस की ओर से की गई कार्यवाही सराहनीय है। बदमाशों की ओर से वाहन को टक्कर मारकर पुलिसकर्मियों को घायल करने के बावजूद उन्होंने हार नहीं मानी। और आखिरकार दोनों वाहन जब्त कर लिए। फिलहाल, पुलिस की ओर से थाने में लाए गए वाहनों में भरे डोडा पोस्त का आंकलन किया जा रहा है।

Share This Post

Post Comment