इश्क में पगलाई माँ ने अपने ही बच्चों का किया क़त्ल

नालन्दा, बिहार/शिव शंकर लालः नालन्दा में एक माँ ने मोहब्बत के खातिर अपने ही मासूम बच्चों को मौत के घाट उतार दिया है। इस हृदयविदारक घटना के पीछे अवैध संबंध को लेकर पति-पत्नी के बीच विवाद का खामियाजा दो मासूमों को अपनी जान देकर चुकानी पड़ी। एक मां ने अपने ही हाथों से दो मासूम जिंदगियों का गला घोंट दिया। घटना नालंदा जिले के सारे थाना क्षेत्र के बहादी बिगहा गांव की है। मिली जानकारी के अनुसार सुरेंद्र चौधरी की शादी रूबी से हुई थी। उनकी दो बच्चियां थी। सुरेंद्र के मुताबिक रूबी का अवैध संबंध उसके बहनोई के साथ था। इसे लेकर अक्सर दोनों के बीच झगड़े होते थे। वो अक्सर झगड़ कर अपने बहनोई के पास चली जाती थी। इसी बात को लेकर एक दिन सुरेंद्र और रूबी में झगड़े हुए। जिसके बाद रुबी पांच महीने और तीन साल की बेटी को लेकर मायके आ गयी। जब सुरेंद्र ने कहा कि वो दोनों बच्चियों को अपने पास रखेगा। इसे लेकर रूबी ने विरोध जताया और कहा कि अगर बच्चियों को लेने आयेगा तो उनकी हत्या कर देगी। एक माँ द्वारा बच्चियों की हत्या की खबर फैलते ही पूरा गांव सकते में आ गया। सूचना पर पहुंची पुलिस ने तहकीकात शुरू करते हुए बच्चियों के शव को अपने कब्जे में कर लिया। वही आरोपी महिला फरार हो गई है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर छापेमारी कर रही है। इस बारे में थानाध्यक्ष राधेश्याम ने बताया कि पिछले दो माह से घरेलू कलह को लेकर दंपती में झगड़ा चल रहा था। बुधवार की सुबह पटना के कुम्हरार निवासी सुरेन्द्र चौधरी की पत्नी रूबी से उसके मायके में मोबाइल पर बात हुई थी। आवेश में रूबी देवी ने पति से कहा था कि अगर आप यहां आएंगे तो दोनों बच्ची का मुंह नहीं देख पाएंगे। इसे अनसुनी करते हुए सुरेंद्र ससुराल बहादीबिगहा चला आया। अपने भाई से पति के आने की सूचना मिलते ही रूबी ने दो मासूम बच्चियों 3 साल की सोनम कुमारी और 5 माह सोनाली की गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद दोनों के शव घर को चौकी पर रखकर फरार हो गई। जब सुरेन्द्र चौधरी साले के साथ घर पहुंचा तो दोनों बच्चियों का शव देखा और इसकी सूचना पुलिस को दी। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस पहुंची और आरोपी नानी और बच्ची की मां को गिरफ्तार कर लिया। परिवार वालों ने भी बताया कि रूबी को सुरेन्द्र पसंद नहीं था, जिसके कारण वह उसके साथ नहीं रहना चाहती थी। रूबी के भाई ने भी कहा कि उसका आचरण सही नहीं था और इस घटना को अंजाम उसकी मां और बहन ने मिलकर दिया है।

Share This Post

Post Comment