निशानेबाज बेटी का सपना पूरा करने के लिए ऑटो ड्राइवर पिता ने खरीदी पांच लाख की राइफल

अहमदाबाद, गुजरात, नगर संवाददाताः गुजरात में अहमदाबाद शहर के एक ऑटो रिक्शा चालक ने अपनी राष्ट्रीय स्तर की निशानेबाज बेटी को जर्मनी में पांच लाख रुपए की बनी राइफल भेंट की. बता दें कि पांच लाख की यह राशि इस ड्राइवर ने अपनी 27 साल की बेटी मिट्ठल गोहली की शादी के लिए रखी हुई थी. मनीलाल गोहली ने अपनी जिंदगी की कमाई खर्च करने का फैसला अपनी बेटी के जुनून को पूरा करने के लिए किया. गोहली ने अपनी बेटी मिट्ठल को निशानेबाजी का सपना पूरा कर राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय चैम्पियनशिप में पदक जीतकर देश को गौरवान्वित करने के लिये यह निर्णय लिया. गोहली ने कहा, ”मिट्ठल ने जब से 2012 में शौक के तौर पर निशानेबाजी में हाथ आजमाए, तभी से विभिन्न चैंपियनशिप में भाग लेना शुरू कर दिया. हम राइफल का खर्चा नहीं उठा सकते थे तो वह अन्य निशानेबाजों और राइफल क्लब से उधार लेती थी. लेकिन मैंने महसूस किया कि उसे राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर की चैंपियनशिप में पदक हासिल करने के लिए शीर्ष स्तर की राइफल की जरुरत है.” गोहली प्रतिदिन तकरीबन 500 रुपए कमाते हैं, वह अपने परिवार के साथ गोमतीपुर में रहते हैं, जिसमें मिट्ठल और दो बेटे शामिल हैं. उन्हें अपने बेटे से भी मदद मिलती है, जो केबल नेटवर्क व्यवसाय में है. गोहली ने कहा, ”’हर पिता की तरह मैं भी मिट्ठल की शादी के लिए पैसा बचाता था. लेकिन मैंने महसूस किया कि उसे बेहतर प्रदर्शन करने के लिए राइफल की जरुरत है. इसलिए मैंने अपनी बचत राशि का इस्तेमाल 50 मीटर की रेंज की जर्मनी में बनी राइफल खरीदने में किया जो पांच लाख रुपए की है. पिता के तौर पर यह सुनिश्चित करना मेरा कर्तव्य है कि मेरी बेटी को अपने जुनून को पूरा करने में किसी तरह की मुश्किल का सामना नहीं करना पड़े.”

Share This Post

Post Comment