सिर चढ़कर बाेल रहा ग्रुफी का जुनून, जान पर खेलकर यंगस्टर्स ऐसे ले रहे सेल्फी

रायपुर, छत्तीसगढ़/मयुर जैनः स्मार्ट फोन से सेल्फी लेकर अलग-अलग सोशल नेटवर्क पर डीपी अपडेट करने के लिए युवा अब जान पर खेलते नजर आने लगे हैं। सेल्फी के चक्कर में देश में कई हादसे हो चुके हैं। इसके लिए खतरनाक होड़ बढ़ रही है, लेकिन इस मामले में प्रशासन और पुलिस अजीबोगरीब ढंग से खामोश बने हुए हैं। सेल्फी लेने के चक्कर में देश के कई राज्यों में बड़े हादसे हुए हैं। इसके बावजूद पुलिस और प्रशासन के अफसर इसे रोकने के लिए कोई गंभीरता नहीं दिखा रहे हैं।
शहर के उन इलाकों में जहां बड़ी संख्या में युवा जुटते हैं और खतरा भी ज्यादा है, वहां सरकारी एजेंसियों ने चेतावनी देने वाला एक बोर्ड तक लगाने की जहमत नहीं उठाई है। यहां तक कि पुलिस जवान भी युवाओं को खतरा उठाते देखते जरूर हैं, लेकिन ये कहकर पल्ला झाड़ लेते हैं कि कार्रवाई क्या करेंगे। इस मामले में नगर निगम से लेकर समाजसेवी संगठन तक, कोई भी सामने नहीं आ रहा है। यही वजह है कि सेल्फी के जुनून में युवा लगातार जान को जोखिम में डाल रहे हैं। सेल्फी के साथ ही अब ग्रुफ्री लेने का भी चलन बढ़ गया है। एक साथ पांच से ज्यादा लोग खतरनाक जगहों पर कभी पुल, कभी नदी तो चलती ट्रेन के बाहर फोटो लेने के चक्कर में जान जोखिम में डाल रहे हैं।  विशेषज्ञों का कहना है कि इस तरह की प्रवृत्ति को रोकने के लिए प्रशासन को ऐसी जगहों पर सेल्फी या ग्रुफ्री लेने में प्रतिबंध लगाना चाहिए। इसके अलावा एेसी जगहों पर सेल्फी या ग्रुफ्री लेना कितना खतरनाक हो सकता है इसकी जानकारी वाले बोर्ड लगाने चाहिए। राजधानी में पिछले साल खारुन के पुल पर सेल्फी लेती छात्रा नदी में गिरकर बह गई थी। पांच किमी दूर एक गांव के लड़कों ने उसे जीवित निकाला था। इसके बाद प्रशासन सख्त हुआ तो खारुन के आसपास सेल्फी का सिलसिला थमा। खारुन इस बार पहले से ज्यादा उफन रही है और खतरनाक बात ये है कि सेल्फी के लिए युवा और ज्यादा खतरा उठाते नजर आने लगे हैं। ऐसा ही नजारा राजधानी से लेकर नई राजधानी तक की अच्छी सड़कों पर भी नजर आ रहा है। चलती बाइक पर सेल्फी का चलन सड़क के बाकी लोगों को भी बेचैन कर देता है कि बच्चे ये क्या कर रहे हैं?  इस मुद्दे पर रायपुर एसपी से लेकर कई जिम्मेदार अफसरों से बात की कि आखिर युवाओं को इस खतरे से कैसे दूर किया जा सकता है। लेकिन किसी के पास पुख्ता प्लान नहीं है।

Share This Post

Post Comment