राष्ट्र विरोधी तत्वों द्वारा किसी गड़बड़ी की आशंका

बलरामपुर, युपी/मयूर रैतानीः उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले की भारत नेपाल सीमा पर स्वतंत्रता दिवस पर सीमा पार से राष्ट्र विरोधी तत्वों द्वारा किसी गड़बडी की आशंका के मद्देनजर चैकसी बढ़ाकर जवानो को हाईएलर्ट कर दिया गया है। आवश्यकता पड़ने पर सीमा को सील भी किया जा सकता है। सशस्त्र सीमा बल 50वी वाहिनी के प्रभारी कमाण्डेन्ट जनार्दन मिश्र के अनुसार, आगामी 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस पर सीमा पार से पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी इंटर सर्विसेज इंटेलिजेन्स (आई एस आई) के फैले नेटवर्क से जुड़े राष्ट्र विरोधी ताकतों द्वारा खुली नेपाल सीमा का फायदा उठा कर किसी प्रकार की गड़बडी की आशंका को लेकर सभी सीमा चैकियों पर जवानो को अलर्ट कर क्षेत्र में चैकसी बढ़ा दी गयी है। एस एस बी 50वी और एस एस बी 9वी वाहिनी के करीब 2300 महिला व पुरुष जवानों को मांकड्रिल कराकर हर स्थिति से निपटने के लिये पूरी तरह तैयार कर लिया गया है। देशविरोधी तत्वों के नापाक मंसूबों को नेस्तनाबूद करने के लिये चप्पे चप्पे की तलाशी लेने के लिये लगाया गया है। पर्दानशीन संदिग्ध महिलाओ के लिये महिला शाखा की विशेष टुकडियां लगी है। सीमा पर विदेशी शराब, असलहे, मादक द्रव्य, जाली नोट, वन्यजीव, विस्फोटक और अन्य सामग्रियों की तस्करी के अलावा अपराधों की रोकथाम के लिये सीमा की सभी 26निगरानी चैकियों को हाई अलर्ट कर दिया गया है। सोहेलवा वन के अंदर अंदर ही नेपाल तक फैले होने और नेपाल संधि के कारण सुगम मार्ग होने का फायदा उठाकर आतंकी संगठनो की घुसपैठ की प्रबल सम्भावना के चलते सभी कैमरों को सक्रिय कर पैनी निगाह रखने के साथ जवान वनकर्मियों से मिलकर संयुक्त काम्बिंग कर रहे है। इसके अतिरिक पगडंडियों, जंगली, दुर्गम रास्तों, गैर परम्परागत रास्तों, सड़क मार्ग से हर आने जाने वालों की सघन तलाशी ली जा रही है। उन्होने बताया कि गोण्डा बढ़नी रेल प्रखंड पर संचालित सभी रेलगाड़ियो में यात्रियों की विशेष पड़ताल में आर पी एफ, जी आर पी, नागरिक पुलिस के साथ एस एस बी की टुकडियां जुटी है। सीमाक्षेत्रों में बने मदरसो, धर्मशालाओं, होटलों और शरणालयो में बाहरी व्यक्तियों के पहचान पत्र व अन्य कागजात की गहन पड़ताल करायी जा रही है। उन्होने बताया कि अपने अधिकार क्षेत्र सीमा परिधि से 15किलोमीटर के अन्दर प्रत्येक परिवारों के लोगों को जागृत कर आपराधिक प्रवृति के लोगों की जानकारी करके उनके विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जा रही है।

Share This Post

Post Comment