वृद्धाश्रम में मातमी मनाकर दूसरी बुजुर्ग पर डाली बुरी नीयत और लूटी ली अस्मत

रायपुर, छत्तीसगढ़/मालती दासः माना स्थित वृद्धाश्रम में एक बुजुर्ग से दुष्कर्म का मामला सामने आया है। आश्रम परिसर में निराश्रित परिवार को रखने बनाए गए परिसर से एक अधेड़ ने बुजुर्ग की अस्मत लूट ली। आंखों से कमजोर बुजुर्ग के कमरे में दिनदहाड़े वारदात को अंजाम दे डाला। घटना के तकरीबन एक हफ्ते बाद मामला सामने आया, खुलासे पर पुलिस आरोपी तक पहुंची। आरोपी का नाम सपन परामनिक (49 ) है। वह अपने परिवार के साथ निराश्रित लोगों को रखने बनाए गए पीएल होम 3 में रहने पहुंचा था। उसकी बच्चे और पत्नी के रहते हुए अप्रिय घटना को अंजाम दिया। माना पुलिस ने मंगलवार को आरोपी सपन को गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ धारा 376 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर सख्ती बरती। पुलिस का कहना है कि वृद्धाश्रम और निराश्रित परिवार का कैंपस लगा हुआ है। घटना के रोज ही वृद्धाश्रम में एक बुजुर्ग जीमती बैरानी ने खुदकुशी कर ली थी। जीमती बाई की फांसी लगा लेने के बाद दोनों परिसर से लोग अंतिम संस्कार में शामिल हुए। इस दौरान मातमी में आरोपी समन भी शामिल हुआ। कार्यक्रम निपट जाने के बाद नीयत खराब कर 60 वर्षीय दूसरी बुजुर्ग की अस्मत लूट ली। दोपहर में ही घटना को अंजाम देकर चुपचाप भाग गया। आरोपी के भय की वजह से बुजुर्ग कुछ दिन चुप रही। लेकिन हरकत दोबारा न हो, इसे देखते हुए करीब एक हफ्ते बाद पुलिस से संपर्क बाधा।

Share This Post

Post Comment