बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ पर नाटिका का आयोजन

नई दिल्ली/सचिन गोयलः न्यू ईरा ह्यूमैन एजुकेशनल एंड वेलफेयर सोसाइटी (रजि.) द्वारा 4 अगस्त 2016 को उत्सव महिला मंडल द्वारा आयोजित तीज महोत्सव मे स्वाति गोयल व सचिन गोयल द्वारा एक नाटिका प्रस्तुत किया गया। जिसका शीर्षक था बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ। आज भी पिछड़े इलाको मे लड़कियो का पैदा होना पाप समझा जाता है और उनको या तो पेट मे ही मार दिया जाता है या जन्म लेते ही मार देते हैं। पढ़ाना लिखाना तो दूर की बात है उस नाटक मे दादी भी बात बात पर लडकियो को प्रताडित करती है और उन्हे शिक्षा दिलाने के विरुद्ध है जबकि लड़किया बडे होकर किरण बेदी, कल्पना चावला, सानिया मिर्जा, डाॅक्टर व इंजिनियर बनना चाहती है। न्यू इरा वेल्फेयर सोसाइटी एक लंबे समय से समाज सुधार व समाज सेवा के कार्यो मे लगी है और श्रीमती राजबाला गोयल जी के साथ आप भी इस संस्था के साथ जुडकर मानव सेवा कर सकते है।

Share This Post

Post Comment