पूर्व राज्यसभा सदस्य का बेटा स्पर्श अपहरण मामले 25 करोड़ की फिरौती मांगने में साथी संग गिरफ्तार

पटना, बिहार/शिवशंकर लालः बिहार के कटिहार के स्पर्श अग्रवाल अपहरण कांड में पुलिस ने दो लोगों को गिरफ़्तार किया है। इनमें से एक आरजेडी की ओर से 1995 से 2000 तक सांसद और वर्तमान कॉंग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष नरेश यादव का बेटा संतोष यादव और दूसरा उसका दोस्त सुनील सिंह है।इन्हीं दोनों ने स्पर्श के पिता से फ़ोन कर स्पर्श की रिहाई के बदले 25 करोड़ की फ़िरौती मांगी थी। इस बात का खुलासा कटिहार पुलिस द्वारा 5-6 अगस्त की दरमियान रात संतोष और उसके साथी को गिरफ्तार कर किया। इन दोनों के द्वार मासूम स्पर्श अग्रवाल के पिता को फोन करके फिरौती की 25 करोड़ की भरी भरकम रकम की डिलिवरी 6 तारीख यानी आज रात तक पहुंचाने का फरमान सुनाया गया था। चुकी अपहरण के बाद से ही कटिहार पुलिस ने स्पर्श के परिजनों का मोबाईल सर्विलास पर ले रखा है। किसी भी के द्वारा फ़ोन खड़काने पर पुलिस चौकन्नी हो जाती है। इसी दौरान एक फ़ोन आता है और फ़ोन पर फिरौती में 25 रकम करोड़ की रकम कोढ़ा थाना क्षेत्र के कोलसी मंगाया जाता है। फिरौती के एवज में मासूम को सकुशल लौटा देने की बात मासूम के पिता भानु अग्रवाल को मोबाइल पर दी जाती है। स्पर्श के पिता के मोबिल पर फिरौती की मांग के बाद पुलिस ने जाल बिछा कर दोनों को फ़ोन पर बताये गए स्थान से कोढ़ा थाने के कैलासी से पुलिस दबोच लेती है। गिरफ्तारी के वक्त संतोष और सुनील दोनों शराब के नशे में धुत्त पाये गए जिनसे फिलहाल पुलिस कड़ी पूछताछ में जुटी है। पुलिस की गिरफ्तारी के बाद दोनों ने किसी चंदन ठाकुर का नाम लिया है। अब पुलिस चन्दन ठाकुर नामक संदिग्ध की इनकी निशान देही पर तलाश कर रही है। उल्लेखनीय है कि 3 अगस्त को स्पर्श का अपहरण हुआ था। अग्रवाल परिवार का पुराना ड्राइवर मिथुन पासवान घर पहुंचाने के बहाने स्पर्श को स्कूल की गाड़ी से उतारकर अपने साथ ले गया था। इसके बाद वह लापता है और उसका अब तक कुछ पता नहीं चल सका है।

Share This Post

Post Comment