ऐलाणा गांव में समाज सेवियों द्वारा पौधारोपण

ऐलाणा गांव में समाज सेवियों द्वारा पौधारोपण

जालोर, राजस्थान/जनक सिंहः ऐलाणा के ग्रामीणों द्वारा खाली जमीन पर पौधारोपण का कार्य किया जा रहा है। समाजसेवी श्री गणपतसिंह जी बालावत के अनुसार ऐलाणा गांव जवाई नदी के तट पर बसा हुआ है। ये नदी इस क्षेत्र की जीवनदायी है। पिछले लगभग 13 वर्षों से नदी में पानी का बहाव नहीं होने के कारण क्षेत्रीय कुंओं का जलस्तर 450 फीट गहराई पर पहुंच गया। अब जो ट्यूबवेल द्वारा सिचाईं के लिए पानी उपयोग हो रहा है। उसमें फ्लोराईड की मात्रा अधिक होने के कारण उपजाऊ जमीन बंजर हो रही है। तथा पीने योग्य पानी भी नहीं है। मजबूरीवश पानी के सेवन से लोग भयंकर रोगों से ग्रस्त हो रहे है। तथा स्वास्थ्य पर कूप्रभाव पड़ रहा है। पानी की किल्लत के कारण क्षेत्रीय किसानों का खेती के प्रति मोह भंग हो रहा है। तथा किसान शहरों की और पलायन को मजबूर है। पिछले कई वर्षों से जवाई बांध का पानी नदी में छोड़ाने के लिए क्षेत्रीय किसान आंदोलनरत है। लेकिन किसानों का अरोप है कि सरकार उनकी मांगों को नजर अंदाज कर रही है। तथा अब किसानों का कहना है कि अब बंजर जमीन पर पौधारोपण करके पर्यावरण को बचाया जा सकता है। इस मौके पर वरिष्ट उपाध्यक्ष कांग्रेस कमीटी जालोर के श्री मोतीसिंह निंबलाना व शिक्षक सुरेंद्र सिं सिलारी, चुंडावत सिंह बालावत ठाकुर लक्ष्मण सिंह जी बालावत, एग्रीकल्चर सुपर वाईजर महेश जी शर्मा व अन्य ग्रामीण उपस्थित थे।

Share This Post

Post Comment