आपदा प्रभावित गांवों में पेयजल संकट बन रहा है सियासी मुद्दा

पिथौरागढ़, उत्तराखंड़/नगर संवाददाताः पिथौरागढ़ जिले के डीडीहाट इलाके के आपदा प्रभावित गांवों में जारी पेयजल संकट अब राजनीतिक मुद्दा बनने लगा है. भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और वर्तमान में डीडीहाट के विधायक बिशन सिंह चुफाल ने आरोप लगाया है कि सरकार आपदा प्रभावित के दर्द को दूर करने में नाकाम हो रही है. चुफाल ने कहा कि डीडीहाट के बस्तड़ी, ओड़मा, मल्ला ओझा, पत्थरकोट और सिंगाली जैसे इलाके भारी आपदा की मार झेल रहे हैं. लेकिन सरकार इन गांवों में महीना भर गुजरने पर जरूरी सेवाओं को बहाल नहीं कर पाई है. साथ ही चुफाल ने कहा कि आपदा प्रभावित गांवों में पेयजल संकट बुरी तरह गहरा गया है. अधिकांश गांवों में पेयजल योजनाओं के रख-रखाव का कार्य ग्राम पंचायतों को है. लेकिन ग्राम पंचायतों के पास इन सुधारने के लिए कोई बजट नही है. जिस कारण क्षतिग्रस्त लाइनें अभी तक सुधर नही पाई हैं. भाजपा नेता ने सरकार से पेयजल लाइनों को सुधारने के लिए तत्काल धनराशि जारी करने की मांग की है.

Share This Post

Post Comment